रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में योग की अहम भूमिका:एसडीपीओ

0

महाराजगंज.अनुमंडल शहर मुख्यालय के आरबीबीआर कॉलेज के प्रांगण में सोमवार को सातवां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस सामाजिक दूरी को ख्याल रखते हुए मनाया गया. इस दौरान महाराजगंज एसडीपीओ पोलस्त कुमार ने दीप प्रज्वलित कर योग शिविर का शुभारंभ किया. एसडीपीओ ने योग शिविर में शामिल लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान दौर में जो समस्याएं चल रही है. इसमें कहीं ना कहीं लोगों को प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए जाने की आवश्यकता है.इसमें योग का एक महत्वपूर्ण भूमिका रही है.उन्होंने बताया कि योग करने से मनुष्य शारीरिक रूप से ही नहीं बल्कि मानसिक रूप से भी मजबूत हो रहे हैं.योग लंबे समय तक मानव को स्वस्थ रखता है. योग करने से वातावरण में सकारात्मक सदेश जाता है. योग शिविर में पहुंचे लोगों को के बीच योग आसन करा रहे क्रांतिकारी योग प्रचारक अंगद जी महाराज ने बताया कि योग की परम्परा अत्यन्त प्राचीन है और इसकी उत्‍पत्ति हजारों वर्ष पहले हुई थी। ऐसा माना जाता है कि जब से सभ्‍यता शुरू हुई है तभी से योग किया जा रहा है। अर्थात प्राचीनतम धर्मों या आस्‍थाओं के जन्‍म लेने से काफी पहले योग का जन्म हो चुका था। उन्होंने बताया कि योग से सम्बन्धित सबसे प्राचीन ऐतिहासिक साक्ष्य सिन्धु घाटी सभ्यता से प्राप्त वस्तुएँ हैं जिनकी शारीरिक मुद्राएँ और आसन उस काल में योग के अस्तित्व के प्रत्यक्ष प्रमाण हैं। योग के इतिहास पर यदि हम दृष्टिपात करे तो इसके प्रारम्भ या अन्त का कोई प्रमाण नही मिलता, लेकिन योग का वर्णन सर्वप्रथम वेदों में मिलता है और वेद सबसे प्राचीन साहित्य माने जाते है। योग की शुरुआत भारत में हुई थी, आज के समय में भारत देश के कई राज्यों में योग में ध्यान दिया जा रहा है.गणित के योग की तरह ही यह हमारे गुणों की अभिवृद्धि करता है। हमारे भीतर की चेतना को जगाकर हमें संस्कारवान और हृष्ट-पुष्ट बनाता है। योग शिविर में शामिल अमरेश सिंह राजपूत,राजन कुमार,मनोज साह,बंटी कुमार,आनंद कुमार सिंह,अदित यादव,चंद्रशेखर आर्य,रोहित कुमार,चंदन सिंह,बिक्की सिंह, प्रशांत कुमार,मोहित गिरी आदि रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here