इसुआपुर-प्रखण्ड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय उसरी कला में ग्रामीणों ने विद्यालय में जड़ा ताला

0

इसुआपुर। प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय उसरी कला में दो शिक्षकों का आपसी बिबाद इतना उग्र हो गया कि पढ़ने आये कुछ छोटे बच्चे भयभीत हो कर बिद्यालय से भागने लगे.बच्चों को भागता देख अभिभावक परेशान हो कर उनसे कारण जानने लगे।बच्चों के बताने पर अभिभावक बच्चों को लेकर बिद्यालय पहुचे। सूचना पर अन्य विद्यालयों के शिक्षक भी वहाँ पहुंच गए ।तथा अभिभावकों संग उग्र दोनों शिक्षकों को समझाने लगे ।लेकिन दोनों शिक्षक शांत नही हो रहे थे ।अजीजन ग्रामीणों ने सरपंच प्रतिनिधि बिजय कुमार सिंह के सामने बिद्यालय में ताला लगाकर पठन पाठन ठप कर दिया ।इस बाबत स्कूल के प्रधानाध्यापक शलाम अंसारी ने बताया कि मुख्य अभिलेखों को पूर्ब प्रभारी प्रधानाध्यापक राजा बाबू से मांगने पर यह बिबाद बढ़ा है.उन्होंने कहा कि वे 28 सेप्टेंबर को इस बिद्यालय में पद ग्रहण किया ।लेकिन पूर्ब प्रभारी राजा बाबू द्वारा उन्हें 23 नवम्बर को प्रधानाध्यापक का प्रभार तो मिला,लेकिन मुख्य अभिलेख जैसे कैश बुक,लेजर फाइल, स्टॉक रजिस्टर इत्यादि नही मिला ।जिससे उन्हें बिद्यालय चलाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है ।वही राजा बाबू रूटीन के अनुसार क्लास करना नहीं चाहते है ।इन्ही सब बातों को लेकर बिबाद हुआ है ।वही राजा बाबू का कहना है कि वे सारे अभिलेख दे चुके है.लेकिन प्रधानाध्यापक द्वारा छात्रों की अधिक उपस्थिति दर्ज करने का दबाव बनाया जाता है.लेकिन मैं उपस्थिति के अनुसार ही उपस्थिति बनाता हूँ.जो नये प्रधानाध्यापक को मंजूर नहीं है.इसी को लेकर आये दिन बिबाद होता रहता है.बताते चलें कि बिद्यालय में पांच सौ सत्तर क्षात्र है.जबकि तीन सौ या साढ़े तीन सौ के बीच उपस्थिति दर्ज की जाती है ।यह जांच का विषय है.बिद्यालय में अनिश्चित समय के लिए ताला लग चुका है ।मौके पर शिक्षक ओमप्रकाश गुप्ता,संजय सिंह,बुनिलाल राय,अमर कुमार सिंह,सुरेंद्र यादव सरपंच प्रतिनिधि बिजय कुमार सिंह, ग्रामीण प्रेम सिंह,अनिल सिंह,रंजीत सिंह इत्यादि मौके पर उपस्थित थे.

इनपुट:चंद्र प्रकाश राज/रजनीश रंजन बाबा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here