पुलिस एनकाउंटर में मारा गया विकास दुबे

0

पुलिसकर्मियों की हत्या के मास्टरमाइंड विकास दुबे मारा गया की सूचना:-


कानपुर.आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मास्टरमाइंड विकास दुबे मारा गया है बताया जा रहा है की कानपुर टोल नाके से 25 किलोमीटर दूर विकास दुबे को ला रही कार पलट गई. इस दौरान विकास दुबे ने हथियार छीनकर भागने की कोशिश की.इस एनकाउंटर में गंभीर रूप से घायल हुए विकास दुबे की मौत हो गई है. बताया जा रहा है कि विकास दुबे को स्ट्रेचर पर लाला लाजपत राय हॉस्पिटल में लाया गया जहाँ के चिकित्सकों ने विकास दुबे को मृत घोषित कर दिया.बताया जा रहा है कि जब गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हुई, उस समय विकास दुबे भाग निकला. घटनास्थल से कुछ दूरी पर विकास दुबे और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई है.इस मुठभेड़ के दौरान विकास दुबे मारा गया है.बताया जा रहा है कि अपराधी विकास दुबे के कमर और सिर में गोली लगी है.


कौन था विकास दुबे


हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे साल 2001 में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री संतोष शुक्ला हत्याकांड का मुख्य आरोपी था.साल 2000 में कानपुर के शिवली थानाक्षेत्र स्थित ताराचंद इंटर कलेज के सहायक प्रबंधक सिद्घेश्वर पांडेय की हत्या में भी विकास दुबे का नाम आया था. कानपुर के शिवली थानाक्षेत्र में ही साल 2000 में रामबाबू यादव की हत्या के मामले में विकास दुबे पर जेल के भीतर रहकर साजिश रचने का आरोप था.साल 2004 में केबिल व्यवसायी दिनेश दुबे की हत्या के मामले में भी विकास आरोपी था.2001 में कानपुर देहात के शिवली थाने के अंदर घुस कर इंस्पेक्टर रूम में बैठे तत्कालीन श्रम संविदा बोर्ड के चौयरमेन,राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त बीजेपी नेता संतोष शुक्ल को गोलियों से भून दिया था. कोई गवाह न मिलने के कारण केस से बरी हो गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here