सत् पर चलने वाले देर हो सकते है लेकिन अंधेर नहीं हो सकते। सफलता भले ही लेट से मिले लेकिन असफल नहीं होंगे-स्वर्गानंद जी महाराज

0
दीप प्रज्वलित करते महाराज एवं अतिथि।
दीप प्रज्वलित करते महाराज एवं अतिथि।

महाराजगंज। प्रखंड के बलऊ पंचायत अंतर्गत लेरूआ में सत् समाज के संस्थापक श्री-श्री 1008 श्री स्वर्गानंद जी महाराज के सानिध्य में आयोजित सत् महायज्ञ का तृतीय वार्षिकोत्सव समारोह गणमान्यजनों स्कूली छात्र/छात्राओं ग्रामीण जनमानस की मौजूदगी में आयोजित किया गया। शनिवार को हुए वार्षिकोत्सव समारोह में इस वर्ष धर्म पर चर्चा करने हेतु प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय महाराजगंज इकाई की बीके बहन शोभा और बीके नीपू बहन को आमंत्रित किया गया था.

बीके बहन शोभा को समान्नित करते मुखिया सुनील सिंह
बीके बहन शोभा को समान्नित करते मुखिया सुनील सिंह

वहीं छपरा के पंडितपुर निवासी आचार्य सुदीप जी महाराज जो स्वर्गानंद के बाल सखा रहे हैं कि सादर भावपूर्ण चर्चा को उपस्थित भक्तजनों ने करतल ध्वनि से सराहना किया। मंच संचालन कवि गीतकार विजेंद्र कुमार तिवारी उर्फ विजेंद्र बाबू ने किया,अपने रचित कविता का गुणगान करते हुए विजेंद्र कुमार तिवारी श्रीरामचरितमानस महाभारत और कलयुग में घटित घटनाओं को बखूबी चरित्र चित्रण किया जिसकी सराहना उपस्थित जनसमूह ने किया।

वार्षिकोत्सव में शामिल महिलाएं,बच्चे,नौजवान
वार्षिकोत्सव में शामिल महिलाएं,बच्चे,नौजवान

वार्षिकोत्सव समारोह में गुजरात से आए सत् समाज से जुड़े भक्तों ने अपने मुखारविंद से उपस्थित जनसमूह को वेद उपनिषद में वर्णित बातों को इस तरह बताया मानों स्वयं तुलसीदास वेदव्यास स्वयं भगवान कृष्ण उपदेश दे रहे श्रोताओं ने पधारे सत् समाज के लोगों को आत्मीय आशीर्वाद देकर नवाजा। कार्यक्रम का प्रारंभ सत् समाज के संस्थापक श्री-श्री 1008 श्री स्वर्गानंद जी महाराज, प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के बीके बहन शोभा,बीके बहन नीतू,आचार्य सुदीप जी महाराज,बलऊ पंचायत मुखिया सुनील कुमार सिंह ने सामूहिक रूप से दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम को प्रारंभ किया।

मंचासीन अतिथि
मंचासीन अतिथि

जहां विश्व योग गुरु स्वामी रामदेव जी के शिष्य सीवान जिला के योग प्रचारक अंगद जी महाराज ने योग की महत्ता को उपस्थित जनसमूह को बताया,निरोग रहने के लिए योग कितना महत्वपूर्ण है को निशुल्क शिक्षा देने की बातें कहीं। तृतीय वार्षिकोत्सव के पावन अवसर पर गरीब असहाओं के बीच वस्त्र वितरण किया गया। छोटे-छोटे बच्चों के बीच पठन-पाठन सामग्री का वितरण किया गया। भारतीय स्काउट गाइड के बच्चे बच्चियों को अंग वस्त्र देकर बीके बहन शोभा ने बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना किया। कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले छात्र-छात्राओं को आशीर्वाद देकर उज्जवल भविष्य की कामना,हरसंभव मदद करने की बातें श्री/श्री 1008 श्री स्वर्गानंद जी महाराज ने की। वही अपने प्रवचन काल के दौरान उपस्थित जनसमूह से स्वर्गानंद जी महाराज ने भगवान के दिए हुए तन को तत्काल ठीक कर लेने के लिए तत्काल खुश रहने के लिए सत् के मार्ग अपनाने की बातें कहीं। महाराज ने बताया कि अध्यात्म की दृष्टि से और वैज्ञानिक दृष्टि से यह तराश लिया गया है कि सत् पर चलने वाले देर हो सकते हैं लेकिन अंधेर नहीं हो सकते। सफलता भले ही लेट से मिले लेकिन असफल नहीं होंगे।भले ही परीक्षा में पास नहीं करें लेकिन फेल नहीं होंगे।नौकरी नहीं भी मिलेगी तो पैसे की कमी नहीं होगी और इसका एक ही उपाय है सत् अपनाओ और जीवन को धन्य बनाओ और ज्यादा से ज्यादा जय जय जय हो का जहां रहे वहां जाप करते रहे.मौके पर हजारों की संख्या में गणमान्य जन पहुंचे थे जिसमें सामाजिक कार्यकर्ता अखिलेश सिंह पूर्व सांसद प्रतिनिधि पशुपति सिंह पूर्व नगर अध्यक्ष महाराजगंज शक्ति शरण,वर्तमान महाराज जी, नगर उपाध्यक्ष उमाशंकर सिंह, विवेक कुमार मौर्या,रितेश कुमार मौर्य,पंकज कुमार यादव के साथ हजारों की संख्या में सामाजिक,धार्मिक-सांस्कृतिक कार्यकर्ताओं की पुरी फौज मौजूद रहीं.

Input: Priyanshu kr Singh

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here