एक दिन की मुख्यमंत्री बनेंगी हरिद्वार की यह होनहार छात्रा

0

हरिद्वार.बाल दिवस के उपलक्ष्य में हरिद्वार की सृष्टि पूरे एक दिनों के लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालेंगी,इस संबंध में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने बड़ा फैसला लिया है,आगामी 24 जनवरी को बालिका दिवस पर हरिद्वार जनपद के दौलतपुर गांव निवासी सृष्टि गोस्वामी एक दिन के लिए बाल मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालेंगी.इस दौरान विधानसभा के कक्ष नंबर 120 में बाल विधानसभा आयोजित की जाएगी, जिसमें एक दर्जन विभाग अपनी प्रस्तुति देंगे,इधर सृष्टि के एक दिन का मुख्यमंत्री बनायें जाने की सूचना के बाद उनके परिजन काफ़ी खुश है,सृष्टि गोस्वामी के माता पिता का कहना है कि आज हमें काफी गर्व की अनुभूति प्राप्त हो रही है. हर बेटी एक मुकाम हासिल कर सकती है, बस उनका साथ देने की जरूरत है. क्योंकि बेटी किसी से कम नहीं होती. मैं सरकार का भी बहुत-बहुत धन्यवाद करना चाहती हूं, कि उन्होंने मेरी बेटी को इस लायक समझा. किसी के भी कहने पर अपनी बेटियों का साथ ना छोड़े क्योंकि बेटियां आज के वक्त में सब कुछ कर सकती हैं और बेटी हर मुकाम को हासिल कर सकती है,गौरतलब है कि सृष्टि को एक दिनों के लिए मुख्यमंत्री नियुक्त करने के लिए उत्तराखंड बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष ऊषा नेगी ने इस आशय का पत्र मुख्य सचिव ओमप्रकाश को प्रेषित किया है.उन्होंने बताया कि 24 जनवरी को बालिकाओं के सशक्तीकरण के लिए आयोग ने एक होनहार छात्रा को मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी सौंपी है. यही नहीं बतौर मुख्यमंत्री सृष्टि गोस्वामी उत्तराखंड के विकास कार्यों की समीक्षा करेंगी. इसके लिए नामित विभाग के अधिकारी बाल विधानसभा में पांच-पांच मिनट अपनी प्रस्तुति देंगे.बाल विधानसभा दोपहर 12 बजे से तीन बजे तक आयोजित होगी,जानकारी के बताते चले कि सृष्टि गोस्वामी रूड़की के बीएसएम पीजी कॉलेज से बीएससी एग्रीकल्चर कर रही हैं. मई 2018 में बाल विधानसभा में बाल विधायकों की ओर से उनका चयन मुख्यमंत्री के रूप में किया गया था,बाल विधानसभा में हर तीन वर्ष में बाल मुख्यमंत्री का चयन किया जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here