तीन दिनों से रजिस्ट्री कार्यालय मे पसरा है सन्नाटा,यहां के अधिकारी-कर्मचारी निठल्ले बैठे हैं

0

सीवान: महाराजगंज की रजिस्ट्री कचहरी में तीन दिनों से सन्नाटा पसरा हुआ है। यहां के अधिकारी-कर्मचारी निठल्ले बैठे हैं और काम के बिना कचहरी के लगभग पचास (मुंसी) दस्तवेज नबीस बेकार बैठे हैं। यह स्थिति जमीन-मकान की खरीद-बिक्री को लेकर सरकार के नये नियम से वजह से उत्पन्न हुई है। इस संबंध मे महाराजगंज के रजिस्ट्रार नंदप्रताप ने बताया कि मकान-जमीन की खरीद-बिक्री का नया नियम सरकार ने फर्जीवाडा रोकने के लिए लाया गया है। नये नियम के अनुसार अब जमीन तथा मकान को बेचने के लिए उसके मालिक को उसका मोटेशन अपने नाम पर कराना होगा। इसके बाद ही उस मकान-जमीन की बिक्री हो पायेगी। इधर इस नये नियम की वजह से पिछले तीन दिनों से महाराजगंज की रजिस्ट्री कचहरी में एक भी दस्तावेज का निबंधन नहीं हो पाया है। अपना जमीन-मकान की बिक्री करने वाले लोग अब मोटेशन और जमाबंदी के लिए अंचल कार्यालयों की दौड़ लगा रहे हैं। जानकारी में बताया गया कि औसत दिनों में महाराजगंज रजिस्ट्री कचहरी में रोज 30 से 35 दस्तावेजों का निबंधन होता है. मगर सरकार के नये नियम लागू होने के बाद तीन दिनों से एक भी निबंधन नहीं हुआ है। इधर दस्तावेज नबीस संघ ने सरकार के इस नियम से बेरोजगार से शिकार हो गये है.इस नियम से आम लोगों मे काफी आकोश है। संघ के पदाधिकारी सुभाष यादव व अजीत सिंहा ने बताया कि इससे आम लोगों की परेशानी बढ़ने के साथ सरकारी राजस्व को भी नुकसान होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here