महिलाओं की भागीदारी से ही समाज का उन्नति संभव है-डॉ शबाना परवीन

0

परा। सोशल सर्विस एक्सप्रेस की महिला इकाई “एंजल द हेल्पिंग हैण्ड्स” द्वारा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर क्रमशः कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है इसी क्रम में जयप्रकाश महिला महाविद्यालय में स्लोगन लेखन का आयोजन किया गया।स्लोगन लेखन की शुरुआत जयप्रकाश महाविद्यालय की डॉ शबाना परवीन ,डॉ सोनाली सिंह ,संस्था की संरक्षिका डॉ शर्मिला आनंद,संस्था की नवनियुक्त अध्यक्षा शालिनी अग्रवाल और सचिव जयश्री ने स्लोगन लिख कर किया। संस्था एंजल द हेल्पिंग हैंड्स ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के पहले क्रमबद्ध रूप से कई कार्यक्रम को तय किया है।अतिथियों का स्वागत संरक्षक संगठन सोशल सर्विस एक्सप्रेस के संरक्षिका द्वारा पौधा प्रदान कर किया गया ।अपने संबोधन में संस्था की सचिव जयश्री ने बताया कि संस्था का उद्देश्य है कि महिलाओं के प्रति लोगो के तिरस्कृत भाव नही हो ,यह इक्कसवीं सदी है महिलाएं हर कदम पर पुरुषों के साथ है फिर भेद-भाव कैसा? संस्था माहवारी स्वच्छता के लिए कटिबद्ध है।

माहवारी स्वच्छता को समर्पित है संस्था एंजल द हेल्पिंग हैंड्स

“एंजल द हेल्पिंग हैण्ड्स” द्वारा महिला सशक्तिकरण के उदेश्यों के साथ “स्वस्थ बिटिया-सशक्त बिटिया ” कार्यक्रम का आयोजन करती है। संस्था ग्रामीण और शहरी इलाकों में महीने के खास दिनों में स्वच्छता के लिए जागरूकता के कार्यक्रम के माध्यम से किशोरियो में आत्मविश्वास का संचार करती है। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर संस्था द्वारा शहर में एक कोशिश किया जायेगा।

जब संस्था द्वारा विभिन्न खेलो के महिला खिलाड़यों को माहवारी के दिनों में बरतने वाली सावधानियों के प्रति सचेत करेगी।एक विशेष सत्र में शहर की चिकित्सिका डॉ किरण ओझा द्वारा कार्यक्रम में खिलाड़ियों के विभिन्न सवालो के उत्तर दिए जायेंगे। कार्यक्रम का आयोजन 7 मार्च को सुबह 10 बजे से ज़ायका रेस्टोरेंट की ऊपरी मंजिल पर किया जायेगा।आज के कार्यक्रम में मुख्य रूप से महाविद्यालय से डॉ रिंकी कुमारी,चंचल कुमारी,नीतू सिंह,डॉ अमरेंद्र सिंह ,अर्चना सिन्हा, मुग्धा जी,डॉ रेखा श्रीवास्तव, डॉ बबिता बर्धन,मालती ,अम्बिका श्रीवास्तव व संस्था से प्रीति,बबली,सिंटी,शालिनी,लक्ष्मी,मिली,कीर्ति का सहयोग अतुलनीय रहा.

इनपुट:सीनियर जर्नलिस्ट चंद्रप्रकाश राज