प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला वोटरों के ईवीएम में बंद

0
मतदान केंद्र पर अपनी बारी के इंतजार में खड़े महिलाएं
मतदान केंद्र पर अपनी बारी के इंतजार में खड़ी महिलाएं

महाराजगंज: दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के आंगन में रविवार को जमकर वोट बरसे वोटरों ने न तो धूप की परवाह किया और न ही खाने-पीने की चिंता। हर कोई सुबह से ही मतदान केंद्रों की ओर बढ़ा चला जा रहा था। सुबह में ही बूथों पर हर आयु वर्ग के मतदाताओं की लंबी कतार देखी गई। समाज एवं राष्ट्र की तरक्की युवाओं की सोच रखने वाले युवाओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। बड़ी संख्या में युवाओं ने महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र के महाराजगंज व गौरियाकोठी,भगवानपुर, दारौधा विधानसभा में अपने बूथों पर पहुंचकर पूरे उत्साह के साथ अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

महाराजगंज: जदयू विधायक हेमनारायण शाह ने अपने सपरिवार के साथ किया मतदान
महाराजगंज: जदयू विधायक हेमनारायण शाह ने अपने सपरिवार के साथ किया मतदान

काफी ऐसे भी युवा वोटर थे, जिन्होंने पहली बार लोकसभा के चुनाव में वोट डाला। मतदान केंद्रों पर वोट देने पहुंची युवाओं की बड़ी संख्या यह साफ संकेत दे रही थी कि युवा वर्ग जिधर झुका होगा उसके सिर पर जरूर जीत का सेहरा सजेगा वहीं तरक्की की नई सोच रखने वाले युवाओं का मार्गदर्शन बुजुर्ग मतदाताओं ने किया।

सुबह के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने अपने सपरिवार के साथ किया मतदान
सूबे के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने अपने सपरिवार के साथ किया मतदान

बड़ी संख्या में बुजुर्ग मतदाताओं ने बूथों पर पहुंचकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। लोकतांत्रिक व्यवस्था के प्रति बुजुर्ग मतदाताओं की आस्था देखते ही बन रही थी।

रोजगार एवं राष्ट्र की तरक्की व सुरक्षा युवाओं की सोच के साथ दबाया ईवीएम का बटन।

उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला जिन युवाओं की मुट्ठी में कैद है, उनकी सोच राजनीतिक उठा-पटक एवं दांव-पेच से बिल्कुल ही अलग है। दल,जाति एवं धर्म के बंधन में भी युवा वर्ग कैद नहीं है। युवाओं के जेहन में बस और बस एक ही बात है कि कैसे उन्हें रोजगार मिले और राष्ट्र की तरक्की एवं सुरक्षा सही मायने में कौन करेगा। युवा वर्ग बड़ी ही गंभीरता के साथ हर प्रश्न पर नजर रखे हुए ईवीएम का बटन दबा अपनी सोच का इजहार किया.

देवरिया पैक्स अध्यक्ष समेत अन्य लोग मतदान के लिए कतार में।
देवरिया पैक्स अध्यक्ष समेत अन्य लोग मतदान के लिए कतार में।

उजियारपुर लोकसभा के पातेपुर विधानसभा क्षेत्र में बड़ी संख्या में युवाओं ने मतदान में हिस्सा लिया और अपनी सोंच को ईवीएम में कैद कर दिया। अब तो ईवीएम खुलने के बाद ही यह स्पष्ट हो सकेगा कि युवाओं ने किस दल एवं प्रत्याशी में आस्था जतायी है।

बुजुर्गों के अनुभव युवाओं का करेगा मार्गदर्शन, अपनों के सहारे पहुंचे बूथ

मतदान केंद्रों पर काफी संख्या में ऐसे भी वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग कर लोकतांत्रिक व्यवस्था को मजबूत करने पहुंचे थे जो खुद के सहारे चल-फिर नहीं सकते। ऐसे दिव्यांग मतदाता या तो अपनों के सहारे बूथों पर पहुंचे थे या फिर ट्राईसाईकिल एवं अन्य साधनों से पहुंचे थे। शहर महाराजगंज के बुथ संख्या 88 पर अधिकतर मतदान केंद्रों पर इस तरह के मतदाता वोट मत का प्रयोग करते हुए नजर आए. दिव्यांग मतदाताओं के हौसले को देखकर हर कोई उनके उत्साह एवं उमंग को सैल्यूट कर रहा था। ऐसे दिव्यांग मतदाता समाज को यह अहम संदेश भी दे रहे थे कि जब वे मतदान करने इतने उत्साह के साथ पहुंच सकते हैं तो फिर शारिरीक रूप से स्वस्थ्य क्यों नही? लोकतांत्रिक व्यवस्था में ऐसे मतदाताओं की अनूठी आस्था नवयुवकों को यह संदेश दे रही थी कि सभी को अपने मताधिकार का प्रयोग अवश्य करना चाहिए।

मुस्तैद रही सुरक्षा, दौडते रहे अधिकारी

महाराजगंज लोकसभा चुनाव के लिए रविवार को महाराजगंज विधानसभा क्षेत्र मे भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान हुआ। महाराजगंज के सभी मतदान केंद्रों पर हालांकि पैरामिलिट्री, पीएसी व सिविल पुलिस तैनात रही, वही मतदान शुरू होते ही एसडीओ, एसडीपीओ, बीडीओ, थानाध्यक्ष सहित संबंधित पदाधिकारी क्षेत्र के सभी मतदान केंद्रों का जाएजा लेते रहे, इसके बावजूद जिलाधिकारी व एसपी ने भी महाराजगंज के कई मतदान केंद्रों पर जाकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here