दिल्ली में सिख ऑटो चालक की पिटाई के बाद बढ़ा बवाल,कई आरोपी पुलिसकर्मियों पर एक्शन

0

दिल्ली में सिख ऑटो ड्राइवर की पिटाई पर बढ़ा बवाल, रात भर हुआ हंगामा।

ऑटो चालक से मारपीट के विराेध में लाठी-डंडे लेकर इकट्ठा हुए लोगों ने थाने का घेराव कर जमकर की नारेबाजी।

नई दिल्ली:के मुखर्जी नगर इलाके में सोमवार की रात दिल्ली पुलिस ने एक सिख ऑटो चालक की जमकर पिटाई कर दी. ऑटो चालक की पिटाई के बाद दिल्ली में बवाल बढ़ गया हैं. ऑटो चालक की पिटाई के बाद सोमवार की रात दिल्ली में पूरी रात धरना प्रदर्शन का दौर चला. सिख ऑटो चालक की पिटाई के बाद आक्रोशित सिख के लोगों ने थाने का घेराव कर आरोपी पुलिसकर्मियों को अपने हवाले करने की मांग कर रहे थे.सिखों का कहना था कि पुलिसकर्मियों ने एक तो मारपीट की, ऊपर से सरबजीत के खिलाफ भी कई धाराओं में मामला दर्ज किया है. सिखों ने किसी भी कीमत पर पुलिसकर्मियों को दंड देने और सरबजीत के साथ न्‍याय की मांग की.रात में सिखों का गुस्‍सा भड़कता देख पुलिस के वरिष्‍ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए. इस दौरान पुलिस का अतिरिक्‍त स्‍टाफ भी बुलाया गया, जबकि पहले से सीआरपीएफ की दो कंपनियां वहां तैनात थीं. पुलिस के समझाने-बुझाने के बावजूद लोग किसी भी तरह मानने को राजी नहीं हुए. इसी बीच घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे शिरोमणि अकाली दल नेता मनजिंदर सिंह सिरसा के साथ भी लोगों ने धक्का-मुक्की की. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी मुखर्जी नगर में दिल्‍ली पुलिस की बर्बरता को निंदनीय माना है.केजरीवाल इस मामले में निष्‍पक्ष जांच कर दोषियों के खिलाफ कड़ा कदम उठाने की मांग हैं.उन्‍होंने ट्वीट कर कहा कि नागरिकों की रक्षा करने वालों को अनियंत्रित हिंसक भीड़ बनने की अनुमति नहीं दी जा सकती.केजरीवाल पीड़‍ित सरबजीत से मिलने उसके घर भी पहुंचे थे.

घटना के बाद बढ़ती हिंसक को देख गृह मंत्रालय ने मांगा जवाब

राष्ट्रीय राजधानी में सिख टेंपो चालक के साथ पुलिसकर्मियों के द्वारा किए गए हमले को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पुलिस से जवाब मांगा हैं. मंत्रालय ने इस मामले से संबंधित पुलिस से पूरी रिपोर्ट की मांग किया हैं.

मानवाधिकार आयोग ने भी किया घटना को निंदा।

मानवाधिकार आयोग के ब्रांड एम्बेसडर एवँ चैयरमेन पँ मोहित नवानी ने दिल्ली के मुखर्जी नगर में दिल्ली पुलिस कांड की कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि मानवाधिकार एवँ अपराध नियंत्रण संगठन नई दिल्ली में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में शिकायत दर्ज करेगा और पीड़ित व्यक्ति को न्याय दिलायेगा। कहा हैं कि क्या हमारे देश की पुलिस हमारे ऊपर अत्याचार करने के लिए बनी हुई हैं.सरकार से अनुरोध करता हुँ। की सभी पुलिस वालों के ऊपर सख्त सख्त कार्यवाही किया जाए.ताकि भविष्य में ऐसी घटनाएं न हो और पुलिस जनता के बीच अच्छे व्यवहार रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here