लहलादपुर व एकमा में 12वें दिन भी बेमियादी हड़ताल पर रहे शिक्षक

0

शिक्षकों की मजबूती से ही शिक्षा मजबूत होगी : प्रणय कुमार

लहलादपुर/एकमा सहित सारण जिले में नियोजित शिक्षकों की बेमियादी हड़ताल 12वें दिन शुक्रवार को भी जारी रही। लहलादपुर बीआरसी परिसर में शुक्रवार को बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले धरने पर बैठे नियोजित शिक्षक-शिक्षिकाओं के समक्ष परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ के प्रदेश संयोजक प्रणय कुमार पहुंचे। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि बिहार सरकार शिक्षकों की मांगों को पूरा करने में टालमटोल के रवैये से अलग हटकर हड़ताली शिक्षकों के प्रतिनिधियों से शीघ्र सहृदयता से वार्ता करे। वार्ता के माध्यम से शिक्षकों के हित में मांगों को पूरा करे। बिहार सरकार द्वारा हड़ताली शिक्षकों के प्रति अड़ियल रूख अख्तियार किए जाने की उन्होंने आलोचना की। शिक्षक नेता श्री कुमार ने कहा कि प्रदेश सरकार एक तरफ गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का राग अलाप रही है। लेकिन राष्ट्र निर्माता शिक्षक की खुशहाली की दिशा में दोहरी नीति अपना रही है। उन्होंने कहा कि जबतक शिक्षकों को उचित सम्मान नहीं मिलेगा, तबतक गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की कल्पना करना भी संभव नहीं है। शिक्षकों की मजबूती से ही शिक्षा मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश कुमार द्वारा विधानसभा व विधान परिषद में दिए जा रहे वक्तव्य की आलोचना करते हुए कहा कि आप कह रहे हैं कि नियोजित शिक्षक सुप्रीम कोर्ट गए थे। वहां से अपनी लड़ाई हार गए। लेकिन यह नहीं कह रहे कि उन्हें हाईकोर्ट से सम्मानजनक ईंसाफ भी मिला था। इस अवसर पर समन्वय समिति के प्रखंड अध्यक्ष नरेंद्र यादव, परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ के प्रमंडलीय संयोजक अरविंद कुमार, जिला महासचिव शोभनाथ भास्कर, आनंद कौशल गुट के जिला उपाध्यक्ष अरविंद सिंह, कामेश्वर प्रसाद, रामकुमार, राजेन्द्र यादव, विनोद कुमार, अनुज कुमार, दिनेश राम,राजेश प्रसाद, पंकज कुमार आदि मौजूद रहे।

एकमा में हड़ताली शिक्षकों ने सरकार के विरुद्ध अपनी आवाज बुलंद किया

एकमा बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर समान समान काम के लिए समान वेतन, सेवा शर्त, राज्य कर्मी का दर्जा आदि मांगों के समर्थन में नियोजित शिक्षकों की बेमियादी हड़ताल 12वें दिन शुक्रवार को भी एकमा प्रखंड में जारी रही। जिससे लगभग सभी सरकारी स्कूलों में पठन-पाठन लगभग ठप रहा। इस अवसर पर बीआरसी परिसर में धरना-प्रदर्शन कर शिक्षकों ने अपनी आवाज बुलंद किया। समन्वय समिति के प्रखंड अध्यक्ष शैलेश कुमार सिंह, सचिव सुमन प्रसाद कुशवाहा, संयोजक जय प्रकाश तिवारी, नगर अध्यक्ष उपेंद्र यादव, रितेश प्रसाद, धर्मेंद्र सिंह, दिग्विजय गुप्ता, पवन कुमार, छविनाथ मांझी, निर्भय सिंह, योगेश सिंह, संजय साह, आनंद प्रसाद, रविरंजन, समरेश, उमेश सिंह, नसीम अंसारी, कुमार, संजय यादव, अमरेंद्र सिंह, भीम रजक, धीरेंद्र कुमार, ब्रजेश उपाध्याय, शशि प्रकाश तिवारी, सुरेश सिंह, गिरधारी रस्तोगी, संगीता कुमारी, सुमन कुमारी, जितेंद्र राय, संतोषी शाही, मंजुला कुमारी, ऊषा कुमारी, शमीम अंसारी, साहेब हुसैन आदि ने क्षेत्र के स्कूलों का मुआयना करके पुराने वेतनमान वाले शिक्षकों से भी हड़ताल को सफल बनाने में सहयोग की.

इनपुट:चन्द्रप्रकाश राज/के.के.सिंह सेंगर/वीरेंद्र कुमार यादव.