विद्यालय प्रशासन के लापरवाही के खिलाफ छात्रों एवं अभिभावकों का धरना

0

महाराजगंज. अनुमंडल मुख्यालय के स्वामी कर्मदेव यमुना राम उच्च विद्यालय सह इंटर कालेज में सोमवार को विद्यालय के दो छात्र और उनके परिवार के सदस्य विद्यालय प्रशासन और बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के कार्यशैली के खिलाफ अनिश्चित कालीन धरना पर बैठे है। इस संबंध में धरना पर बैठे छात्र आशुतोष कुमार के पिता रविंद्र कुमार पांडे ने बताया कि स्वामी कर्मदेव यमुना राम उच्च विद्यालय सह इंटर कॉलेज के कर्मियों के द्वारा घोर लापरवाही का नतीजा है कि मेरे बेटे का इंटरमीडिएट के विशेष परीक्षा का फॉर्म नहीं भरा जा सका। जिसके वजह से बिहार इंटरमीडिएट का होने वाले विशेष वार्षिक परीक्षा से वंचित हो जाने का अंदेशा जाहिर हो गया है। उन्होंने बताया कि 7 अप्रैल को जब मैं विद्यालय पहुंचा तो यह लिखित आश्वासन दिया गया कि आपके बच्चों का फॉर्म भरा जाएगा जिस पर काम हो रहा है। मैं पुनः 9 तारीख को जब विद्यालय आया तो सारे लोग विद्यालय छोड़ गायब दिखे। विद्यालय के प्राचार्य समेंत कोई भी शिक्षक विद्यालय में मौजूद नहीं है। श्री पांडे ने बताया कि सोमवार 12 तारीख हो गया आज भी कोई शिक्षक या प्रचार्य या चपरासी तक विद्यालय में उपस्थित नहीं है। इसी बात को लेकर अनिश्चितकालीन धरना पर हम सब बैठे है। धरना करने वालों में आशुतोष कुमार पांण्डेय , रविंद्र कुमार पांडे, विशाल कुमार राम, शैलेंद्र कुमार राम अखिलेंद्र कुमार , शुभम कुमार आदि शामिल है।

क्या है मामला ?

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति पटना द्वारा आयोजित इंटरमीडिएट परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए फार्म वर्ष 2020 में ही भरा गया था। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति या विद्यालय प्रशासन की लापरवाही के चलते विद्यालय के 2 छात्र के एडमिट कार्ड में दो ही विषय अंकित होने के चलते 1 फरवरी 2021 से आयोजित इंटर की परीक्षा से वंचित रह गए। छात्रों और अभिभावकों के हंगामा के दौरान तत्कालीन बीईओ रीता कुमारी और डीईओ सीवान ने आश्वासन दिया था कि बिहार इंटरमीडिएट के विशेष परीक्षा के दौरान इन दोनों का एडमिट कार्ड सुधार कर परीक्षा लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here