हड़ताली शिक्षकों ने होली नहीं मनाने का किया एलान,मुख्यमंत्री, शिक्षामंत्री व शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव की पुतला को होलिका करेंगे दहन

0

एकमा। सारण बिहार शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर पुराने नियमित शिक्षकों के समान, समान काम के लिए समान वेतन, सेवा शर्त, राज्य कर्मी का दर्जा आदि मांगों के समर्थन में नियोजित शिक्षकों ने अपनी बेमियादी हड़ताल के 21वें दिन रविवार को भी जारी रही। दौरान समन्वय समिति के प्रखंड अध्यक्ष शैलेश कुमार सिंह, सचिव सुमन प्रसाद कुशवाहा, नगर अध्यक्ष उपेंद्र यादव, संयोजक जय प्रकाश तिवारी, समरेश आदि की अगुवाई में हड़ताली शिक्षकों ने अपने आंदोलन की सफलता हेतु प्रदेश नेतृत्व के निर्देश पर जारी अगले चरणबद्ध आंदोलन की घोषणा की।

हड़ताली शिक्षकों ने बताया कि नियोजित शिक्षक इस बार होली नहीं मनाएंगे। संघर्ष समन्वय समिति के प्रखंड अध्यक्ष श्री सिंह ने कहा कि बिहार सरकार की दमनात्मक नीतियों के विरोध में नौ मार्च/सोमवार को होलिका दहन के दिन प्रखंड मुख्यालय पर मुख्यमंत्री, शिक्षामंत्री व शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव का शिक्षकों द्वारा पुतला दहन किया जाएगा। इसके अलावा 13 से 20 मार्च तक अपनी मांगों के समर्थन में सरकार की नीतियों के खिलाफ नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरुक कर अभिभावकों, बुद्धिजीवियों व पंचायत प्रतिनिधियों से समर्थन पत्र भी जुटाएंगे। जबकि 23 मार्च को पटना में आयोजित “शिक्षा बचाओ-बिहार बचाओ” रैली में शामिल होंगे। इस अवसर पर भीम रजक, निर्भय सिंह, पप्पू यादव, रितेश प्रसाद,रेनू कुमारी,आशा देवी,सरोज बाला सिन्हा, लशौकत अंसारी, नसीम अंसारी,गाजी हसन, रवि रंजन प्रसाद,संजीव सिंह, सोनू सिंह,संजय मांझी, कवि रमेश राम, चिंतामणि सिंह, योगेश सिंह,संजय साह, रीता कुमारी, गिरधारी रस्तोगी, उमेश सिंह,रजनीश कुमार, संजय साह, जितेंद्र राम,दिग्विजय गुप्ता, छविनाथ मांझी, ओमप्रकाश यादव,अरविंद कुमार,आनंद कुमार, रविरंजन,धीरज कुमार यादव, उमेश कुमार,पंकज कुमार रस्तोगी आदि मौजूद रहे.

इनपुट:चंद्रप्रकाश राज/वीरेंद्र यादव / के.के सेंगर