नागरिकों की सुरक्षा प्रदान करने में राज्य की पुलिस पूरी तरह से विफल सीवान में बेखौफ अपराधियों ने राजद नेता के सीने में मारी गोली मौत

0

पटना। बिहार में अपराधी अब बेखौफ है कानून और अंजाम को ताक पर रखते हुए खुलेआम आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे है। लेकिन बिहार में नागरिकों की सुरक्षा प्रदान करने में राज्य की पुलिस पूरी तरह से विफल है। शनिवार की रात बेखौफ अपराधियों ने राजद नेता समेत तीन लोगों की गोलियों से छलनी कर दी। सीवान के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मोलानपुर गांव में 35 वर्षीय आरजेडी नेता संजय मांझी की अंधाधुन फायरिंग कर अपराधियों ने मौत के घाट उतार दी। जानकारी के अनुसार कहा जा रहा है कि संजय मांझी शनिवार देर रात पत्नी के साथ कमरे में सो रहे थे कि कुछ लोगों ने उनकी खिड़की को खटखटाया। इसके बाद संजय ने खिड़की खोला तो बाहर से अपराधियों ने ताबड़तोड़ गोलीबारी कर उनकी हत्‍या कर दी। संजय के सीने में तीन गोलियां धंस गईं। उनकी तत्‍काल मौत हो गई। हत्‍याकांड के बाद अपराधी भाग निकले। रविवार की सुबह जब आरजेडी नेता की हत्या की खबर फैली तो इलाके में आक्रोश फैल गया। भीड़ ने पोस्‍टमॉर्टम के लिए ले जाए गए शव के पास पहुंचकर अस्‍पताल में जमकर हंगामा किया। हत्‍सा का कारण फिलहाल ज्ञात नहीं। पुलिस ने स्‍वजनों के बयान पर अज्ञात अपराधियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की है. इसके बाद पटना के एसकेपुरी थाना क्षेत्र के विवेकानंद मार्ग में पोस्ट ऑफिस से एक रिटायर्ड कर्मचारी सकलदेव राय को बाइक सवार अपराधियों ने गोली मार दी। उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई। तीसरी घटना

नालंदा के हिलसा स्थित भटबीघा गांव की है।जहां एक टेम्‍पू चालक का पीछा करते बारातियों को गांव वालों ने इतना पीटा कि दूल्हे के चाचा जितेंद्र सिंह की मौत हो गई.