मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का जल-जीवन हरियाली यात्रा पहुंचे सीवान

0

324 करोड़ की लागत से 354 योजनाओं का उद्घाटन तथा शिलान्यास किया

सीवान। भगवानपुर हाट में गुरुवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तीसरे दिन भी जल-जीवन हरियाली यात्रा किया.सीवान जिले के भगवानपुर हाट मंच से संबोधन के दौरान उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित सभी जनमानस को धन्यवाद ज्ञापन करते हुए सीएम ने कहा कि जल-जीवन हरियाली अभियान में मै स्वयं और मेरे अलावा बिहार के सभी अधिकारीगण लगे हुए है. कहा कि जब से बिहार की जनता ने हमें काम करने का मौका दिया है.

हमने जनता के लिए लगातार सेवा किया है.न्याय के साथ विकास के बाद पर प्रारंभ से चल रहे हर इलाके का विकास समाज के सभी तबके का उत्थान जो तबका किनारे पड़ा हुआ था उनकी उत्थान मुख्यधारा में लाने के लिए विशेष पहल चाहे वह महिलाएं हो अनुसूचित जाति जनजाति के लोग हो अति पिछड़े के लोग हो अल्पसंख्यक समुदाय के लोग हो सभी लोगों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए विशेष पहल करना यह सारा काम सरकार शुरू से करती रहीं है.

एक नहीं अनेक कार्य किया गया.उन्होंने कहा कि जनता ने जब भी हमें मौका दिया है तो हर समय कोई न कोई पहले से जो काम हो रहा है उसको आगे बढ़ाते हुए कुछ और नया काम किया जा रहा है.

सीएम ने कहा कि जनता यह सब जान रही है कि क्षेत्र में किस तरह के विकास हो रहे है.उन्होंने कहा कि पूरे राज्य के सुदूर इलाकों से चलकर राज्य की राजधानी पटना पहुंचने में छह घंटे से ज्यादा समय न लगे इसके लिए हम लोगों ने सड़क निर्माण पर पूरा ध्यान दिया.उन्होंने कहा कि लगभग वह लक्ष्य प्राप्त हो गया.तो बिहार सरकार ने यह लक्ष्य निर्धारित कर दिया कि अब 5 घंटे में पटना पहुंचा जाये.जिसके लिए और सड़कों की निर्माण नए पुलों का निर्माण पुलियों का निर्माण सड़कों की चौड़ीकरण यह सब काम हो रहा है.

प्रत्येक गांव को पक्की सड़क से जोड़ने का है लक्ष्य-सीएम

सीएम नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि प्रत्येक गांवों को पक्की सड़क से जोड़ने का हमने लक्ष्य लेकर चला है.जो काम लगभग अंतिम चरण में पहुंच चुका है.कहा कि सिर्फ गांव ही नहीं जो गांव के टोले है जिसका अपना कोई नाम नहीं होता वह टोले के नाम से जाने जाते है.उनको भी पक्की सड़कों से जोड़ने के लिए हमने सात निश्चय योजना में शामिल किया है जिसका कार्य हो रहा है.कहा कि कोई भी ऐसा कार्य नहीं है जो जरूरी है और हम लोग नहीं कर रहे हैं.हर क्षेत्र में शिक्षा के क्षेत्र में स्वास्थ्य के क्षेत्र में हर सुविधा मिल है.

उन्होंने कहा कि शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में जो स्थिति पहले थी जितने लोग पढ़ पाते थे साढे 12% स्कूलों के बच्चे विद्यालयों से बाहर रहते थे.उनको स्कूल तक पहुंचाने के लिए नए स्कूलों का निर्माण जींस समुदाय के लोगों का यह पता किया कि किस समुदाय के लोग स्कूल से बाहर रह जाते है.महादलित अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को स्वयंसेवक के सहारे बाहर पढ़ाकर स्कूलों तक पहुंचाने का कार्य जो हम लोगों ने किया जो आज यह स्थिति आ गई.कि आप स्कूल से बाहर रहने वालों की संख्या बहुत कम हो गई है. ना के बराबर है 1% बच्चे विद्यालय से बाहर नहीं जाते.कहा कि महिलाओं की संख्या बहुत कम थी उनको विद्यालय पहुंचाने के लिए पोशाक राशि योजना उच्च विद्यालयों के लिए साइकिल योजना सभी कार्य हम लोगों ने शुरू किया और आज कितनी खुशी की बात है कि अब उच्च विद्यालयों में भी नौवीं क्लास से लड़के और लड़कियों की संख्या बराबर हो गई है. इस दौरान सीएम ने सीवान के विभिन्न प्रखंडों में 324 करोड़ की लागत से 354 योजनाओं का उद्घाटन तथा शिलान्यास किया.मौके पर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे, महाराजगंज भाजपा सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल, सीवान सांसद कविता सिंह, महाराजगंज जदयू विधायक हेमनारायण साह, जीरादेई विधायक रमेश सिंह कुशवाहा, सीवान के विधायक व्यासदेव प्रसाद,बड़हरिया विधायक श्याम बहादुर सिंह,दरौंदा विधायक कर्णजीत सिंह उर्फ व्यास सिंह,बिहार विधानसभा परिषद के सदस्य वीरेंद्र नारायण यादव,शिव प्रसन्न यादव, एमएलसी टुन्ना पांडे, सीवान जिला परिषद अध्यक्ष संगीता यादव, सीवान जिले के जदयू अध्यक्ष इंद्रदेव सिंह पटेल, सीवान भाजपा अध्यक्ष मनोज सिंह, सीवान लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष वीर बहादुर सिंह, टुनटुन प्रसाद,अजय कुमार सिंह,कामेश्वर सिंह रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here