सिसई: क्वारेंटिन केंद्र में पेट दर्द से तड़पता रहा युवक किसी ने नहीं की मदद आखिरकार हो गई मौत

0

शनिवार की देर शाम से ही युवक के पेट में दर्द होना शुरू हो गया था,पदाधिकारियों को सूचना के बावजूद भी मदद नहीं मिली।



सीवान.गोरेयाकोठी प्रखंड के मध्य विद्यालय सिसई क्वारेंटिन केंद्र में शनिवार की रात पेट दर्द से तड़प रहे युवक की मौत हो जाने के बाद आक्रोशित परिजनों ने रविवार को सीवान-शीतलपुर एसएच-73 मुख्य पथ को जामकर हंगामा करना शुरू कर दिया। परिजनों का आरोप है कि मृतक युवक की पेट में शनिवार की शाम से तेज दर्द होना शुरू हो गया था। इसकी सूचना क्वारेंटिन केंद्र के पदाधिकारियों को दी गई, हालांकि इसकी सूचना के बावजूद भी किसी ने उनकी मदद तक नहीं किया। किसी तरह इस मामले की जानकारी जब परिजनों को लगी तो उन्होंने गोरियाकोठी थानाध्यक्ष,सीओ,बीडीओ को इसकी जानकारी दी।काफी घंटे बीत जाने के बावजूद भी जब प्रशासनिक मदद नहीं मिली तो शनिवार की रात तकरीबन 1:30 बजे के आसपास परिजन अपने निजी वाहन लेकर गोरेयाकोठी के मध्य विद्यालय सिसई क्वारेंटिन केंद्र पहूंचे और युवक को गाड़ी में लेकर सीवान इलाज के लिए निकले हालांकि काफी घंटों से तेज पीड़ा से जूझ रहे युवक की अफ़राद मोड़ के आसपास मौत हो गई, इधर सही समय पर प्रशासनिक मदद ना मिलने से आक्रोशित लोगों ने रविवार की सुबह एसएच 73 को जाम कर हंगामा करना शुरू कर दिया। बताया जाता है कि मृतक 28 वर्षीय राजनाथ महतो 13 दिन पूर्व मुंबई से लौटा था जिसे क्वारेंटीन के लिए गोरियाकोठी के मध्य विद्यालय सिसई में रखा गया था। मृतक के 6 वर्ष पूर्व ही शादी हो चुकी है। इधर राजनाथ महतो की मौत के बाद पत्नी रेणु देवी का रो-रोकर बुरा हाल है,मृतक के तीन लड़की तथा एक लड़का है, युवक राजनाथ महतो की मौत के बाद परिजनों को उनके भरण-पोषण कैसे होगी उनके परिवार का देखरेख कौन करेगा इसकी चिंता सता रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here