प्रसिद्ध हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ.प्रभात कुमार की कोरोना से मौत

0

पटना.प्रसिद्ध हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. प्रभात कुमार की मौत मंगलवार कोरोना से हो गई है.प्रभात कुमार हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में भर्ती थे.डॉ. प्रभात एक मई को कोरोना संक्रमित हुए थे और हालत गंभीर होने पर दस मई को उन्हें पटना से एयर एंबुलेंस से हैदराबाद भेजा गया था। वहां इकमो (एक्स्ट्रा कारपोलरी मेम्ब्रेन ऑक्सीजेनेशन सिस्टम) मशीन पर रखा गया था। कार्डियोलॉजिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया के ग्रुप पर उनके निधन का संदेश मिलने के बाद प्रदेश के चिकित्सा जगत में शोक की लहर दौड़ गई है। डॉक्टरों के अनुसार कंकड़बाग के एक निजी अस्पताल में जब इकमो मशीन पर उनकी हालत में सुधार नहीं हुआ तो उन्हें एयर एंबुलेंस से हैदराबाद के उस निजी अस्पताल में भेजा गया था जहां फेफड़े प्रत्यारोपण की व्यवस्था थी। वहां उनकी हालत में सुधार देख कर डॉक्टरों को आशा थी कि जल्द ही फेफड़े प्रत्यारोपण कर उन्हें पूर्ण रूप से स्वस्थ कर दिया जाएगा, लेकिन खून में संक्रमण का रोग सेप्टीसीमिया होने से उनके कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया। बताते चले कि डॉक्टर प्रभात कुमार ने ही प्रदेश में पहली बार एंजियोप्लास्टी की शुरुआत ही हार्ट हॉस्पिटल में की थी। वर्तमान में वे राजेंद्र नगर स्थित मेडिका हार्ट इंस्टीट्यूट के मेडिकल डायरेक्टर थे। 1997 में पोस्ट ग्रेजुएशन और इसके बाद डीएम कार्डियोलॉजी करने के बाद उन्होंने दिल्ली के आरएमएल अस्पताल में काम किया ।प्रदेश से बड़ी संख्या में रोगियों के दिल्ली आने और वहां उनकों होने वाली परेशानी देखकर वे डॉ. एके ठाकुर के हार्ट हॉस्पिटल में आकर सेवा देने लगे। चंद वर्षों में वे बेहतरीन सर्जन व क्लीनिशियन के रूप में प्रख्यात हो गए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here