गोपालगंज में अग्नि के सात फेरे लेकर दुल्हन प्रेमी के साथ फरार-सुबह में विदाई की चल रही थी तैयारी

0

गोपालगंज। मांझा थाने के शेख परसा गांव में अग्नि के सात फेरे लेकर दुल्हन प्रेमी के साथ फरार हो गई.जब इसकी जानकारी दुल्हन के माता-पिता को हुई तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गये। बताते चलें कि इंजीनियर दूल्हे से लड़की की शादी के बाद सुबह में विदाई की प्रक्रिया चल रही थी। तभी अचानक सूचना मिली की दुल्हन अपने प्रेमी के साथ फरार हो गई है. इधर इस घटना से पूरे गांव में अफरा तफरी जैसा माहौल कायम हो गया लोग तरह-तरह के बातें बनाने लगे। लड़की को प्रेमी के साथ फरार होने के बाद उनके परिजन भी भूमिगत हो गयें। होना क्या था गांव की इज्जत को दांव पर लगती देख आनन-फानन में पंचायत की बैठक बुलाई गई. जिसमें स्थानीय थाने के पुलिस पदाधिकारी भी बैठक में शामिल हुये। यूपी के कुशीनगर जिले के तरेया सुजान थाने के भगवानपुर गांव से डॉ घनश्याम कुमार के पुत्र इं. सुधीर कुमार की शादी 26 फरवरी को मांझा थाने के शेखपरसा गांव में अमरनाथ प्रसाद की पुत्री कुमारी मनोरमा के साथ हुई.सुबह में विदाई की चल रही थी तैयारी शादी की रस्म पूरी होने के बाद गुरुवार की सुबह में विदाई की तैयारी चल रही थी. इधर, दुल्हन अपने आशिक के साथ फरार हो चुकी थी. इससे अंजान वर पक्ष दूल्हे के साथ गाड़ी लेकर दुल्हन की विदाई के लिए दरवाजे पर पहुंचे, जहां सन्नाटा पसरा हुआ था.वीडियोग्राफर को लेकर दूल्हा-दुल्हन की विदाई के लिए घर में घुसे तो पता चला कि दुल्हन अपने प्रेमी के साथ फरार हो चुकी थी.इधर पंचायत के निर्णय पर पड़ोस की गरीब बेटी की शादी इंजीनियर दूल्हे के साथ करायी गयी.