बिहार में घरों से नहीं निकले लोग सड़कें वीरान

0

पटना। कोरोना वायरस से संक्रमण की बचाव की खातिर पीएम नरेंद्र मोदी की अपील पर बिहार में भी जनता कर्फ्यू का बड़ा असर दिख रहा है। शनिवार रात से ही सन्नाटा पसर गया था। और आज सुबह सड़कें वीरान पड़ी हैं।

लोग घरों में हैं और कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के जतन में लगे हैं। बिहार की राजधानी पटना के साथ ही हर शहर तथा गांव में जनता कर्फ्यू का जोरदार समर्थन है।

पीएम मोदी ने कोरोना वायरस से बचाव को लेकर जनता से 22 मार्च को कर्फ्यू का आह्वान किया था।पीएम मोदी ने कहा था कि 22 मार्च रविवार को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू का पालन करना चाहिए। इस दौरान न लोग सड़क पर जाएं, न मोहल्ले में जाएं।

इधर बिहार के सुपौल में सड़कों पर सन्नाटा रहा लोग सुबह के समय सैर तक के लिए अपने-अपने घरों से नहीं निकले। वहीं पटना के व्‍यस्‍त रहने वाले बेली रोड पर कोतवाली थाना के पास सन्‍नाटा पसरा हैं।
श्रीकृष्‍ण नगर शिव मंदिर भी सुनसान पड़ा है, जहां सुबह-सुबह भक्तो की उमड़ पड़ती है।

सीवान में भी जनता कर्फ्यू का समर्थन जोरदार दिख रहा है। बबुनिया-मोड़ से लेकर स्टेशन की ओर जाने वाली सड़क खाली पड़ी है। वहीं महाराजगंज अनुमंडल के सभी दुकानदार अपनी-अपनी दुकानों को बंद कर जनता कर्फ्यू कक भरपूर समर्थन में लगे है।