पटियाला हाउस कोर्ट में चारों दोषियों की डेथ वारंट पर रोक नहीं कल होगी फांसी: दोषी अक्षय की पत्नी कोर्ट के सामने बेहोश

0

नई दिल्ली। पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों की डेथ वारंट पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है। यानी अब 20 मार्च को दोषियों को फांसी दी जायेगी। गुरुवार को पटियाला हाउस कोर्ट में दोषी अक्षय कुमार की पत्नी ने जज के सामने रोना शुरू कर दिया. अक्षय कुमार की पत्नी ने निर्भया की मां आशा देवी के पैर छूकर कहा कि आप मेरी मां जैसी हैं इस फांसी को रुकवा लीजिए। ज्ञात हो कि अक्षय कुमार ने राष्ट्रपति द्वारा उसके दया याचिका को खारिज किये जाने को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। सुप्रीम कोर्ट में निर्भया के वकील एपी सिंह ने कहा कि पुलिस ने अक्षय को मानसिक और शारीरिक प्रताड़ना दी. उन्होंने कहा कि पुलिस ने थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया. एपी सिंह ने जस्टिस कुरियन जोसेफ का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने भी राय दी थी कि निर्भया मामले में मौत की सजा पाने वाले युवा लड़के हैं और उन पर दया दिखानी चाहिए, परंतु इन सारी बातों को पटियाला कोर्ट ने खारिज कर दिया है.

इधर अक्षय की पत्नी पुनीता देवी बेहोश होकर गिर पड़ी,पुनीता ने ही अपनी पति से तलाक लेने के लिए अर्जी दाखिल की थी.उसने बेहोश होने से पहले कहा कि उसे और उसके नाबालिग बेटे को भी फांसी दे दी जाए. अदालत के बाहर चीखते हुए उसने कहा“मुझे भी न्याय चाहिए.मुझे भी मार दो.

मैं जीना नहीं चाहती. मेरा पति निर्दोष है. यह समाज उसके पीछे क्यों पड़ा है?”उसने कहा, “हम इस उम्मीद में जी रहे थे कि हमें न्याय मिलेगा लेकिन पिछले सात साल से हम रोज मर रहे हैं.” सिंह की पत्नी ने खुद को सैंडल से मारना शुरू कर दिया जिसके बाद वकीलों ने उसे समझाया। गौरतलब है कि पांच मार्च को एक निचली अदालत ने 20 मार्च को सुबह साढ़े पांच बजे फांसी देने के लिए नया मृत्यु वारंट जारी किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here