भाई-बहन का पर्व पीड़िया धूमधाम से मना

0

रिपोर्ट: प्रियंका

सीवान: मैरवा के हसनपुरा में सैकड़ो बहनों ने भाई की लम्बी उम्र की कामना करने वाला त्योहार पीड़िया गाजे बाजे के साथ मनाया। प्रातः काल से ही गांव गांव से बहने अपनी अपनी पीड़िया को लेकर नदी, तालाबो के घाटो पर पहुंचकर मंगल गीतो के साथ विसर्जित की।

बहने एक माह से गोबर की पिंडी बनाकर बड़ी आस्था से भाईयो के दीर्घायु हेतु पूजन अर्चन कर रही थी। आज उसी त्योहार का समापन धूमधाम से हुआ पूर्व विधायक प्रत्याशी कलावती देवी ने बताया कि पीड़िया का त्योहार सदियों से ग्रामीण क्षेत्रो मे मनाया जाता है। एक माह तक चलने वाले इस पर्व की शुरुआत भईया दूज के दिन से ही शुरू होती
है।

भईया दूज के महिलाए गोबर का गोवर्धन बनाकर पूजती है। बहनें उसी गोबर से अपने भाई के दीर्घायु के लिए गांव के एक स्थान पर अपनी अपनी पीड़िया ( गोबर की लम्बी पिण्डी ) बनाती है। प्रतिदिन शाम को उस पिण्डी वाले स्थान पर बहनें भाईयो की लम्बी उम्र के लिये आस्था की मंगल गीत गाती है। यह आस्था की प्रक्रिया एक माह तक चलती है। एक माह के पश्चात आने वाले अमावस्या के दिन पीड़िया अपने स्थान से छुड़ाया जाता है। अगले दिन उस पीड़िया का नदी ,तालाबो के घाटो पर जल विसर्जित किया जाता है। विसर्जन में रितिका प्रजापति, ख़ुशी, किरण, मनीषा प्रजापति, सरोज प्रजापति, एकता कुमारी समेत सैकड़ो लडकिया शामिल थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here