सावधान: बिहार सरकार के खिलाफ लिखने और बोलने पर अब खानी पड़ेगी जेल की हवा

0

पटना.बिहार सरकार के खिलाफ बोलने और लिखने वालों को अब जेल की हवा खानी पड़ सकती है,बकायदा इससे संबंधित पत्र आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) के एडीजी नैयर हसनैन खान ने सभी विभागीय प्रधान सचिवों व सचिवों को जारी किया है। यानी कि अब से बिहार में इंटरनेट मीडिया पर सरकार,मंत्री,सांसद,विधायक या सरकारी अफसरों के खिलाफ आपत्तिजनक या अभद्र टिप्पणी करने वालों पर कानूनी कार्रवाई होगी,इसके आरोप में आइटी एक्ट की धाराओं के तहत एफआइअर दर्ज किया जाएगा.

हिटलर के पद-चिह्नों पर चल रहे नीतीश कुमार:तेजस्‍वी

बिहार सरकार की यह कार्रवाई शुरू होने से पहले ही विपक्ष दलों ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर हो गया है। बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने कहा है कि नीतीश कुमार हिटलर के पद-चिह्नों पर चल रहे हैं। नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने अपने ट्वीट में मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को हिटलर के पद-चिह्नों पर चलने वाला बताते हुए लिखा है कि बिहार में प्रदर्शनकारी चिह्नित धरना स्थल पर भी धरना-प्रदर्शन नहीं कर सकते तथा सरकार के खिलाफ लिखने पर जेल की हवा खानी पड़ेगी। यहां आम आदमी अपनी समस्याओं को लेकर विपक्ष के नेता से नहीं मिल सकता। तेजस्‍वी आगे लिखते हैं कि नीतीश कुमार थक गए हैं,लेकिन वे कुछ तो शर्म करें। एक अन्‍य ट्वीट में तेजस्‍वी यादव ने लिखा है कि लोकतंत्र की जननी बिहार में संघी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लोकतंत्र की धज्जियां उड़ा रहे हैं। उन्‍होंने अपने जमीर, सिद्धांत और विचार का सौदा तो भारतीय जनता पार्टी एवं संघ से कर लिया है, लेकिन आमजनों के मौलिक अधिकारों का हनन हरगिज नहीं करने देंगे। बिहार में सरकार के इस आदेश से राजनीति में गरमाहट आ गई है। पक्ष-विपक्ष में बयानबाजी का दौर शुरू हैं। कांग्रेस ने नीतीश कुमार पर अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का हनन करने का आरोप लगाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here