राष्ट्रीय वैश्य महासभा ने कोरोना के खिलाफ चलाया जन-जागरूकता अभियान

0

छपरा। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवाहन पर 22 मार्च (रविवार) को जनता कर्फ्यू के समर्थन में सारण जिला राष्ट्रीय वैश्य महासभा, छपरा के द्वारा नगरपालिका चौक छपरा पर जन-जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर अध्यक्ष वीरेंद्र साह मुखिया ने कहा कि स्वच्छता में ही स्वास्थ्य का मूल मंत्र छिपा हुआ है जो भारत को सुरक्षित बनाने में अपना अहम रोल अदा करता है। कोरोना वायरस संक्रामक रोग से बचने के लिए कल का जनता कर्फ्यू एहतियातन जनता के प्राण की रक्षा हेतु उठाया गया एक प्रशंसनीय कदम है। जिसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए वह कम है। उपाध्यक्ष डॉ हरिओम प्रसाद ने कहा कि जान है तो जहान है। जीवित रहना हर मानव का अरमान है। अत: विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा बताए गए दिशा निर्देशों का पालन हम सभी को करना अत्यावश्यक है। ताकि हम स्वस्थ रहते हुए जिंदा रहे। राजेश डावर ने कहा कि इटली, स्पेन, अमेरिका जैसे विकसित देशों के यहां जब इतनी विकट अवस्था है इस कोरोना वायरस के संक्रमण से तो भारत जैसे गरीब देश की जनता के प्राण की रक्षा कैसे होगी यह एक यक्ष प्रश्न बन गया है। सचिव छठी लाल प्रसाद ने कहा कि आइए हम सभी मिलकर कल प्रधानमंत्री द्वारा आहूत जनता कर्फ्यू को सफल बनाने के लिए सुबह 7:00 से 9:00 बजे रात्रि तक अपने-अपने घरों में सुरक्षित रहें। बाहर न निकलें। संध्या 5:00 बजे अपने-अपने परिवारजनों के साथ घर के बालकोनी में, छत पर, खिड़की के सामने कम से कम 5 मिनट तक तालियां, ढोल, नगाड़े, शंख घंटी आदि बजाकर संगीतमय प्रतिध्वनी पैदा करें और कोरोना को हराने में मदद करें। इससे कोरोना सेनानियों का उत्साहवर्धन भी होगा। मौके पर डॉ हरिओम प्रसाद, अनीता प्रसाद, संतोष कुमार ब्याहुत, रमेश प्रसाद, कन्हैया कुमार, सोनू कुमार, गंगोत्री प्रसाद अधिवक्ता,दीनदयाल कुमार अधिवक्ता, उपेंद्र कुमार, कृष्णा कुमार वैष्णवी, चंदन कुमार, छठी लाल प्रसाद, राजेश कुमार डाबर, पवन गुप्ता, प्रो. जगदीश प्रसाद, मुन्ना कुमार प्रभात रंजन आदि उपस्थित थे.

इनपुट:सीनियर जर्नलिस्ट चंद्रप्रकाश राज