सांसद राजीव प्रताप रूडी ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में दिये एक करोड़ की राशि

0

. कोविड 19 महामारी के दौरान अस्पतालों में वेंटिलेटर की कमी होगी पूरी

. जिला के सभी सामुदायिक और प्राथमिक केंद्रों को मिलेगा वेंटिलेटर

. प्रत्येक वेंटिलेटर की लागत होगी 15 लाख रुपये।

छपरा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इंडिया फाइट्स कोरोना अभियान को सारण में तेज गति प्रदान करने के लिए स्थानीय सांसद सह भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजीव प्रताप रुडी ने सांसद निधि से एक करोड़ की राशि अपने संसदीय क्षेत्र सारण में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने,वेंटिलेटर आदि की व्यवस्था के लिए दी है।

उन्होंने बताया कि आवश्यकता पड़ने पर और राशि उपलब्ध कराई जा सकती है। कोविड़-19 की महामारी और उसके प्रति बढ़ती चिंताओं के बीच पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री रुडी की इस पहल से सारण में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाया जा सकता है। इस राशि से सारण के सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के साथ-साथ अनुमंडल स्तरीय अस्पतालों को लगभग 15 लाख मूल्य के वेंटिलेटर उपलब्ध कराये जायेंगे। इसके लिए सांसद ने छपरा के सिविल सर्जन और जिलाधिकारी से बात की है। कोरोना की महामारी को रोकने के लिए केंद्र और राज्य दोनों सरकारों ने रोकथाम के प्रयासों को आगे बढ़ाने का काम किया है। इसके लिए पूरे देश में 21 दिनों का लॉक डाउन भी किया गया है। बीमार संदिग्धों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में हो रहा है। पर इस बीमारी से गंभीर मरीज जिन्हें सांस लेने में परेशानी होती है उनके लिए पीएचसी मे वेंटिलेटर की व्यवस्था नहीं है। इसी को देखते हुए सांसद श्री रुडी ने अपने सांसद निधि से सारण लोकसभा संसदीय क्षेत्र के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रो को वेंटिलेटर देने की पहल की है। इसके लिए सांसद ने जिलाधिकारी श्री सुब्रत कुमार सेन को पत्र भी लिखा है। सांसद ने कहा कि कोरोना से बचाव के उपायों के लिए उनकी सांसद निधि से आवश्यकतानुसार धनराशि अवमुक्त की जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि यदि लगता है कि इसके लिए और राशि की आवश्यकता है तो वे पूरी धनराशि भी खर्च कर सकते है.

इनपुट:सीनियर जर्नलिस्ट चंद्रप्रकाश राज