महाराजगंज चंद्रशेखर इंडोर स्टेडियम का हाल बेहाल

0

महामहिम उपराष्ट्रपति ने रखी थी इसकी अाधारशिला

सिवान: महाराजगंज अनुमंडल मुख्यालय स्थित महानायक चन्द्रशेखर इन्डोर स्टेडियम अनुमंडल का एकमात्र इन्डोर स्टेडियम हैं। इन दिनों बैडमिंटन खिलाड़ी एवं प्रशिक्षक महाराजगंज अनुमंडल के संसाधनहीन एवं जर्जर चन्द्रशेखर इन्डोर स्टेडियम में बैडमिन्टन खेल का प्रैक्टिस कर रहे हैं। इस इन्डोर स्टेडियम की आधारशिला तत्कालीन उपराष्ट्रपति भैरव सिंह शेखावत ने 23 मार्च 2003 को रखी थी। इस अाधारशिला कार्यक्रम में देश के दिग्गज राजनेताओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज करायी थी।

इंडोर स्टेडियम के रख-रखाव के लिए पंचायत गेट पर धरना देते खिलाड़ी
इंडोर स्टेडियम के रख-रखाव के लिए पूर्व में पंचायत गेट पर धरना देते खिलाड़ी।

प्रदेश सचिव छात्र जदयू महाराजगंज अजीत कुमार का कहना है। कि अनुमंडल का इकलौता इन्डोर स्टेडियम अपनी बदहाली की आंसू बहा रहा हैं। हालत यह हैं। कि स्टेडियम की उचित रख-रखाव के अभाव में प्ले ग्राउंड की पीच खराब हो गयी हैं, दीवाल की पलस्टर झड़ गये हैं, छत में लगे करकर का शेड उखड़ कर अस्त-व्यस्त हो गये हैं। दर्शक दीर्घा की हालत काफी खराब हैं। स्टेडियम के बगल में कच्ची नाले में बहता हैं शहर का बदबूदार और गंदा पानी। कुल मिलाकर स्टेडियम की स्थिति एकदम नारकीय हो गयी हैं।…………..

इस कार्यक्रम में पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालु प्रसाद यादव और पूर्व विधायक उमाशंकर सिंह ने बड़े ही सपने के साथ इसकी अाधारशिला कार्यक्रम में शरीक हुए थे और अपने-अपने कोष से योगदान दिया था। क्षेत्रीय जनता बड़े उम्मीद के साथ एक राष्ट्रीय स्तर के स्टेडियम के सपना सजाकर बैठी थी लेकिन उनके उम्मीदो की पंख नहीं लग सका।

चंद्रशेखर इंडोर स्टेडियम के लिए हुई थी बैठक

मंगलवार को महाराजगंज खेल प्रशासक रिजवानुल्लाह उर्फ टुन्ना ने बताया कि चंद्रशेखर इनडोर स्टेडियम के जिणोद्धार के लिए नगर पंचायत की बोर्ड ने एक दिवसीय बैठक किया था। बैठक 27 मार्च 2018 को संपन्न हुई थी। बोर्ड की बैठक में जिणोद्धार की प्रस्ताव पास कर नगर विकास विभाग को भेज दिया गया हैं। फिर भी इस स्टेडियम के जिणोद्धार को लेकर नगर पंचायत गम्भीर नहीं हैं।
………………….

आज स्टेडियम की दुर्दशा किसी से छिपी नहीं हैं। इसकी दुर्दशा को लेकर स्थानिय जनप्रतिनिधि से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों तक की गुहार खिलाड़ी व खेल प्रशिक्षक और खेलप्रेमी के साथ आम जनता ने भी इसकी जीणोद्धार की गुहार लगा कर थक चुकी हैं। इसके जिणोद्धार के लिए नगर पंचायत के गेट पर खेल प्रशासक खिलाडी एवं खेल प्रशिक्षकों के द्वारा धरना प्रदर्शन भी किया गया। अपनी स्थापना काल से लेकर आज तक इसकी रख-रखाव एवं संचालन का उतरदायित्व नगर पंचायत प्रशासन के पास हैं। इसके जिणोद्धार के लिए नगर पंचायत की बोर्ड की।

क्या कहते हैं कार्यपालक पदाधिकारी।

चन्द्रशेखर इन्डोर स्टेडियम की जिणोद्धार के संबंध में नगर पंचायत की बोर्ड की बैठक में पुनःप्रस्ताव पास करा कर नगर विकास विभाग को भेजा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here