बिहार के सभी जिलों में लॉक डाउन, वरीय अधिकारियों के साथ बैठक में सीएम ने लिया बड़ा फैसला

0

पटना। कोरोना वायरस के बढ़ते महामारी को देखते हुए बिहार सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने राज्य के सभी जिलों को लॉक डाउन कर दिया है। 31 मार्च तक बिहार के सभी जिला मुख्यालय लॉक डाउन होंगे।

रविवार की शाम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की वरीय अधिकारियों के साथ तकरीबन 2 घंटे तक हुई बैठक में यह फैसला लिया गया हैं। इसमें जिला मुख्यालय,अनुमंडल शहर मुख्यालय और ब्लॉक मुख्यालय शामिल है। बताया गया है कि 31 मार्च के बाद अगर परिस्थितियां बदलती है तो इस पर अगली आदेश के लिए विचार किया जाएगा। इस लॉक डाउन में ग्रामीण इलाकों को छोड़ा गया है।

बैठक में विचार करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने बताया कि जिस जगह पर लोगों की भीड़ ज्यादा होती है उस जगह को ध्यान में रखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है।

क्या होता है लॉक डाउन.

लॉक डाउन एक इमरजेंसी व्यवस्था है। जो किसी आपदा के वक्त इसे सरकार की ओर से लगाया जाता है। बताते चलें कि लॉक डाउन के स्थिति में उस क्षेत्र में रहने वाले लोगों को अपने घरों से निकलने की अनुमति नहीं होती है। हालांकि दवा और अनाज के जरूरतों के लिए बाहर जाने के लिए उन्हें इजाजत मिलती है। या किसी व्यक्ति को बैंक से पैसा निकालने की जरूरी हो तभी वह व्यक्ति बैंक जा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here