महाराणा प्रताप की पुण्यतिथि पर क्षत्रिय समाज ने लिया शपथ

0

सीवान। महाराजगंज वीरतापूर्वक,अचुक शब्दबेदी बाण सा निशानेबाज,महाबली क्षत्रिय समाज के महानायक,अपनी बाहुबली ताकत का हिमालय, साहस के आगे सुर्य की किरणें मानों ठण्ड़ी लगती हो, युद्ध क्षेत्र के चट्टान की भांति कठोर कि 423वीं पुण्यतिथि बड़े श्रद्धा भाव से रविवार दोपहर को आर.बी.जी.आर. कालेज परिसर में छात्र संघ के सदस्यों नामचीन चिकित्सकों समाजिक कार्यकर्ताओं, पत्रकारों,बुद्धजीवी लोग के उपस्थिति में मनाया गया। जहां सर्वप्रथम महाराणा के तैल चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई.वहीं प्रताप की जीवनी पर आधारित वाक्यों का उल्लेख मौजूद रहे लोगों ने किया और उनके आदर्शों को जीवन में अधिक से अधिक अपना कर तितिर वितिर हो रही क्षत्रियों के चट्टानी ताकत को हिमालय सा अडीग,सुर्य के समान तेज, हरिश्चंद्र सा सत्य, भगवान कृष्ण सा ऐको अहम द्वितिय ना अस्ति,अयोध्या नरेश दशरथ सा अचुक शब्दबेदी बाण सा निशाना,बेदाग कार्ययोजना अपनाने की शपथ ली गई.

पुण्यतिथि पर आमंत्रित मुख्य अतिथि दिलीप कुमार सिंह पत्रकार ने बताया कि जिनके पूर्वज सतयुग,द्वापरकालीन,त्रेता युग के महानायक रहे,जिनके आदर्श आज भी जिवंत है उनके बंशंज एक होगे तभी कलयुग में उत्पन्न हुए राक्षशों का संघार कर कमजोर,असहाय लोगों को मदद कर मुख्य धारा से जोड़ने का कार्य किया जाय तो बेहतरीन कल सुबह आइए.हमें अपनों ने लूटा गैरों में कहां दम था गीत की पंक्ति चरितार्थ कर दिया है. आज कुछ इने गिने क्षत्रिय समाज के लोगों ने,इस सच्चाई को झुठलाया नहीं जा सकता कि जिनके पास सब कुछ है वहीं लोग दबे कुचले मुझ जैसे लोगों को मदद नहीं कर रहे है.अगर मदद मिलती रहे तो एक/एक को उठाते-उठाते हजारों लोगों में मदद कि भावना आएगी और फिर से खोई उचाई मिलेगी।हम हर जगह है चप्पल सीलने से लेकर चंण्ड़ी पाठ करने तक फिर भी चप्पल सीलने वाले अपनों पर भरोसा करके पास पहुंचीये भाई सील दो तो और फारने के चक्कर में लग जाएगा,चण्ड़ी पाठ करने वाला तो आपको अयोग्य करार देगा और दुर से ही आसन तक नहीं आने का श्लोक सुनाते हुए बड़े लोगों को देख रहा हूं जो घोर चिंता का विषय है इसे मिटाना है।तब जाकर कोई कहेगा.तेरा साथ है तो मुझे का कमी है आपही से मिल रही रौशनी है। अपने संबोधन में समाजिक कार्यकर्ता प्रमोद कुमार सिंह ने कहा कि वीरता के अवतार के रूप में महाराणा प्रताप को हम लोग जानते हैं। मुख्य अतिथि के रूप में वासुदेव क्लीनिक के चिकित्सक डॉ विकास कुमार सिंह,नगर पंचायत महाराजगंज के कार्यपालक पदाधिकारी अरविंद कुमार सिंह ने संबोधन में कहा कि इतिहास गवाह है. क्षत्रिय महान थे है और रहेंगे,दिलीप कुमार सिंह पोखरा,सुनील कुमार सिंह मुखिया,डॉ.कैप्टन बी.के.सिहं, विकास कुमार,चंदन कुमार,विश्वजीत सिंह,तारकेश्वर पांडे,भानुप्रताप सिंह, विशाल कुमार सिंह,सुमित सिंह,मौजूद रहे विश्वजीत सिंह चंदेल ने जोशिले अंदाज में भाषण दे उपस्थित गणमान्य लोगों को गौरवान्वित किया। मौके पर अमरेश कुमार सिंह, राहुल सिंह,मनन जी, नगर पंचायत उपाध्यक्ष उमाशंकर सिंह,चंचल जी के गर्म जोशिले अंदाज में भाषण दिया उन्होंने कहा कि क्षत्रिय वह है जो अपने बचन पर अडिग रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here