अपने ही सरकार में अवैध खनन के आरोप में जब्त गाड़ियों को छुड़ाने के लिए रात से सुबह तक धरने पर रहे महाराजगंज के जदयू विधायक

0

अवैध खनन के आरोप में ग्रामीणों ने सात ट्रैक्टर तथा एक जेसीबी मशीन को पकड़कर थाने को सौंपा था.

सीवान। महाराजगंज थाना शहर मुख्यालय स्थित पसनौली नहर पुल के समीप शनिवार की दोपहर अवैध खनन के आरोप में सात ट्रैक्टर और एक जीसीबी मशीन को जब्त कर ग्रामीणों ने प्रशासन को सौंप दिया.ग्रामीणों का आरोप है की शहर के पसनौली नहर पुल के समीप नहर का बांध काटते-काटते जेसीबी मशीन मिट्टी काटने के लिए नीचे उतर गई.हम ग्रामीणों ने पूछा तो वे लोगों ने बताया कि यह सभी गाड़ी विधायक हेमनारायण साह की है.आवेदन में बताया गया है की जब्त सारी गाड़ियां बिना नंबर प्लेट की है.

बताया गया कि ट्रैक्टर का ट्रेलर का नंबर और कमर्शियल लाइसेंस का पेपर नहीं है.न ही प्रदूषण का कागजात है.बताया गया है कि उक्त सभी गाड़ियों के ड्राइवर के पास कागज न होने संबंधित जानकारी पूछा गया तो गाड़ी के ड्राइवरों ने कागजात और नहर की मिट्टी काटने संबंधित कोई कागजात आदेश पत्र नहीं दिखाया.यह भी कहा गया है कि यह सारी मिट्टी विधायक जी के ईंट भट्ठा एसपी ईंट उद्योग कसदेवरा जो कि पुरानी चिमनी है. उसके उपयोग के लिए जा रहा था.जो पुरानी चिमनी अपने आप में अवैध रूप से बिना किसी मंजूरी के चल रहा है.आवेदक ने सभी गाड़ियों के चालान काटते हुए कार्रवाई करने की मांग थानाध्यक्ष को लिखित आवेदन में की है. इधर जदयू विधायक के सभी गाड़ियां जब्त होने के बाद रात के 10:00 बजे थाने पहुंचे विधायक जी अपने समर्थकों के साथ अचानक धरने पर बैठ गए. उनका कहना था कि जब तक थाने की पुलिस उनकी सभी ट्रैक्टर और जेसीबी मशीन को नहीं छोड़ेगी तब तक वे धरने पर बैठे रहेंगे.

हालांकि विधायक जी की बात को सुनने के लिए थाने के पुलिस तैयार न हुई.अवैध खनन का आरोप में पकड़े गए सभी गाड़ियों को न छूटने के बाद विधायक जी शनिवार की रात्रि 10:00 बजे से लगातार अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ धरने पर सुबह के चार बजे तक बैठे रहे.मांग यही है कि थाने की पुलिस जल्द से जल्द जब्त सभी गाड़ियों को छोड़ दे.सूचना के अनुसार रविवार की सुबह 4:00 बजे पुलिस चार ट्रैक्टर को छोड़ दिया है.वहीं बाकी के अन्य ट्रैक्टर और जेसीबी मशीन पुलिस के कब्जे में है.बताते चलें कि इधर पुलिस को आवेदन देकर कार्रवाई करने की मांग पसनौली निवासी आवेदनकर्ता पुनीत पुष्कर,आदित्य कुमार,शंभू कुमार सिंह,मनीष सिंह,जयशंकर तिवारी,संजय कुमार द्विवेदी ने की है.

इधर कार्यपालक अभियंता सारण नहर प्रमंडल महाराजगंज ने थानाध्यक्ष को दिए हुए लिखित में कहा है कि महाराजगंज उप-शाखा नहर में अत्याधिक गाद भरे रहने के कारण खरीफ अवधि में नहर ऊपरी भाग में दो बार नहर क्षतिग्रस्त हो गया था.नहर के कर्मी के देख-रेख में नहर गाद हटाने का कार्य चल रहा था.लेकिन ग्रामीणों के विरोध के कारण गाद सफाई बंद कर दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here