सैनिक की हत्या मामले में मृतक के परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे जदयू विधायक,मुकदमे में फंसे लोगों ने लगाई न्याय की गुहार

0

जदयू विधायक हेमनारायण साह ने लोगों से इलाके में शांति कायम रखने की अपील की है।

महाराजगंज। थाना क्षेत्र के बलऊ गांव में होली के दिन हुई भूतपूर्व सैनिक की ईंट-पत्थर से पीटकर हत्या के मामले में गुरुवार को पीड़ित परिजनों से मिलकर स्थानीय जदयू विधायक हेमनारायण साह ने सांत्वना दी है। विधायक ने कहा कि सरकार की और से जो भी सहायता होगी वह उन्हें प्रदान करेंगे। सैनिक की हत्या की सूचना पर पहुंचे विधायक ने लोगों से इलाके में शांति कायम रखने की अपील की है। गौरतलब हो कि होली के दिन डीजे बजाने को लेकर दो बच्चों के बीच विवाद खड़ी हो गई थी। बकझक के साथ शुरू हुई विवाद आगे चलकर मारपीट तथा दो गुटों के बीच पत्थरबाजी की घटना में तब्दील हो गई। बच्चों की विवाद में बीच-बचाव करने पहुंचे। बलऊ गांव निवासी भूतपूर्व सैनिक राजेंद्र प्रसाद की ईंट पत्थर से गहरी चोट लगने की वजह से उनकी मौत हो गई। घटना के बाद दो गुटों के बीच जमकर मारपीट हुई। जिसमें कई लोग घायल हो गये। इधर घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची थाने की पुलिस को भी लोगों की कड़ी आक्रोश झेलनी पड़ी। घंटों चली प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शनकारियों के प्रतिरोध की वजह से पुलिस कुछ करने में असमर्थ दिखी। बढ़ते बवाल और तनाव जैसी स्थिति को देखकर कुछ ही घंटों में पूरा इलाका छावनी में तब्दील हो गया। सीवान एसपी अभिनव कुमार पल-पल की जानकारी आला अधिकारियों से लेते रहे.मौके पर डीएसपी हरीश शर्मा,एसडीओ मंजीत कुमार,बीडीओ हरीश शर्मा,थानाध्यक्ष मनीष कुमार तथा पंचायत के मुखिया सुनील कुमार सिंह लोगों को शांति कायम रखने की अपील करते रहे. अंत में काफी मशक्कत के बाद किसी तरह से आक्रोशित लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया गया। जिसके बाद पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सीवान सदर अस्पताल भेजा। पुलिस ने बताया कि हत्या के मामले का मुख्य अभियुक्त समेत अन्य दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

विधायक से ग्रामीणों ने लगाई न्याय की गुहार

बलऊ गांव के सैकड़ों ग्रामीणों ने विधायक हेमनारायण साह से न्याय की मांग करते हुए कहा कि घटना में शामिल अभियुक्तों के बीच हुई झड़प में थाने की पुलिस ने बहुत से निर्दोष लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है.इस दौरान ग्रामीणों ने विधायक से निर्दोष लोगों को बचाने की अपील की है। ज्ञात हो कि गांव मैं दो गुटों के बीच हुई पथराव और तनाव की स्थिति को देखते हुए थाने की पुलिस ने अब तक 120 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है.