करोड़ों रुपए की गबन करने वाली चिट फंड कंपनी के कार्यालय में साक्ष्य मिटाने की कोशिश का आरोप,निवेशकों ने किया हंगामा

0

सील किए गए चिटफंड कंपनी के कार्यालय में साक्ष्य मिटाने और फाइल चोरी का लगाया आरोप!!

मौके पर लगी निवेशकों की भीड़
मौके पर लगी निवेशकों की भीड़

महाराजगंज.शहर के मोहन बाजार स्थित लाईफ केयर इंफ्राटेक लिमिटेड कंपनी के कार्यालय से कागजात चोरी के मामले में कंपनी के निर्देशक अशोक सिंह के भाई सत्येंद्र सिंह सहित दो अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। लिखित प्राथमिकी में कंपनी के चपरासी संजय साह ने बताया हैं कि मैं लाइफ केयर इंफ्राटेक लिमिटेड कंपनी में चपरासी का काम करता था। इस कंपनी के महाराजगंज स्थित कार्यालय का चाबी मेरे पास ही रहता था। इस कंपनी पर करोड़ों रुपए का गबन करने का आरोप है। इस संबंध में महाराजगंज थाना में भी एक प्राथमिकी 2019 में दर्ज है। इस कंपनी से जुड़े कार्यकर्ताओं ने कंपनी के अधिकारियों की सहमति से चाबी मेरे पास ही रख दी थी। इस कंपनी के निर्देशक अशोक सिंह के भाई और वरिष्ठ फिल्ड वर्कर अनीता देवी के पति सत्येंद्र सिंह 5 दिसंबर दिन शनिवार को कई बार फोन करके कार्यालय के चाभी मांगा। मैंने उनको देने से इनकार किया तो 6 दिसंबर दिन रविवार को सुबह 7:00 बजे के आसपास मेरे घर पर कुछ अज्ञात लोगों के साथ आए और मेरे साथ गाली-गलौज करते हुए मुझे जबरन मोटरसाइकिल पर बैठाकर चाबी के साथ मुझे मोहन बाजार स्थित कार्यालय पर लेकर आए तथा ताला खोलकर कार्यालय का समस्त अभिलेख के अतिरिक्त अन्य कंप्यूटर एवं उपकरण साक्ष्य मिटाने के उद्देश्य से अज्ञात व्यक्ति को साथ मिलकर कार्यालय से बाहर निकलना शुरु कर दिया। इस बात की भनक कंपनी के निवेशकों को लगी तो वे लोग कार्यालय पर पहुंचकर हल्ला-हंगामा करने लगे। हंगामा कर रहे निवेशकों ने सतेंद्र सिंह को कार्यालय में बंद कर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंचे पुलिस ने सतेंद्र सिंह को थाना लेकर आयी जहां पीआरएल ब्रांड भर कर छोड़ दिया।गौरतलब है कि लाइफ केयर इंफ्राटेक कंपनी लिमिटेड अपने निवेशकों के करोड़ों रुपए गवन कर फरार हो गए हैं.इस संबंध में कंपनी के निवेशकों ने कंपनी के निर्देशक अशोक सिंह पर धोखघड़ी का मामला महाराजगंज थाना कांड संख्या 54/2019 में प्राथमिकी दर्ज कराया है। इस धोखाघड़ी की शिकायत निवेशकों ने सेबी और आरबीआई से भी की है.

आरोपी को छोड़े जाने की सूचना पर निवेशकों ने किया हंगामा

करोड़ों रुपए के गबन करने वाली लाईफ केयर इंफ्राटेक लिमिटेड कंपनी के निर्देशक के भाई सत्येंद्र सिंह को पुलिस द्वारा पीआरएल ब्रांड भरकर छोड़े जाने की सूचना पर कंपनी के निवेशक थाना परिसर में पहुंचकर हंगामा करने लगे। निवेशकों का कहना है कि कंपनी में हुए गबन के शिकायत पर सेबी के दिशा निर्देशों के अनुसार कंपनी को सभी जरूरी कागजात और फाइल को सील कर दिया गया है। इसके बावजूद भी कंपनी के निर्देशक के भाई सतेंद्र सिंह कंपनी के विरुद्ध में सेबी में दर्ज मामले का साक्ष्य मिटाने के नियत से कार्यालय में फाइल को चोरी करने आए थे। हंगामा करने वालों में शैलेंद्र कुमार मिश्रा वीरेंद्र कुमार सिंह ललन सिंह शंभू कुमार सिंह सत्येंद्र प्रसाद दीनानाथ सिंह अनिल सिंह सुरेश चौधरी अजय कुमार द्विवेदी आदि शामिल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here