जिले के सभी महिला पर्यवेक्षिकाओं को दी गई कैश एप्लीकेशन की जानकारी

0

पूर्णियाँ। राज्य के आंगनबाड़ी सेविकाओं को रजिस्टर संभालने से मुक्ति मिली है.पहले उन्हें 11 रजिस्टरों को मैनुअली भरना होता था। लेकिन अब 11 रजिस्टरों में 10 रजिस्टरों को ऑनलाइन कर दिया गया है। इसके लिए सभी आंगनबाड़ी सेविकाओं को आईसीडीएस- कैश ( कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर) एप्लीकेशन के साथ स्मार्टफोन दिए गए हैं.

इसके इस्तेमाल करने की तकनीक की जानकारी देने के लिए सभी महिला पर्यवेक्षिकाओं को दो दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया. इसमें सभी पर्यवेक्षिकाओं द्वार एप्प के माध्यम से नियमित समय में क्षेत्र की अनुश्रवण करने की जानकारी दी गई.

7 मॉड्यूल्स द्वारा की जायेगी ट्रैकिंग :

आईसीडीएस डीपीओ शोभा सिन्हा ने बताया कि कैस एप्पलीकेशन में 7 तरह के मॉड्यूल्स दिए गए हैं, जिससे पर्यवेक्षिका अपने क्षेत्र के आंगनवाड़ी केन्दों की ट्रैकिंग कर सकती हैं. इसमें आंगनबाड़ी केंद्र प्रबंधन, सेक्टर प्रबंधन, गृह भ्रमण के दौरान प्रार्थमिकता वाले लाभार्थी, एमपीआर और एएसआर रिपोर्ट, तकनीक मुद्दो पर पूछताछ, उपकरण बॉक्स और आईएलए मोड्यूल की जानकारी के लिए अलग अलग मोड्यूल हैं, जहाँ से वह अपने क्षेत्र की रियल टाइम मोनिटरिंग कर सकेंगी.

तकनीकी समस्या की रियल टाइम होगी ट्रैकिंग :

बाहर से आए ट्रेनर विशाल दुबे ने बताया कि एप्लीकेशन में किसी भी तरह की तकनीकी समस्या होने पर आंगनबाड़ी सेविकाएँ समस्या को प्रखंड स्तर पर निर्मित हेल्प डेस्क को ऑनलाइन जानकारी देगी.प्रखंड स्तर पर निर्मित हेल्प डेस्क इस समस्या को सुलझाएंगे. प्रखंड स्तर पर समस्या का प्रबंधन नहीं होने पर इसे जिला स्तरीय हेल्प डेस्क को भेज दिया जाएगा. डिस्ट्रिक्ट स्तर पर बने हेल्प डेस्क फिर समस्या का निदान करेंगे. जटिल समस्या होने पर इसे राज्य स्तरीय हेल्प डेस्क को भेजने की भी व्यवस्था बनायी गयी है. इस तरह कैश एप्लीकेशन की तकनीकी समस्या की रियल टाइम ट्रैकिंग कर इसका समाधान किया जाएगा.

सेविका व लाभार्थी को सही समय पर करेगा अलर्ट :

कैश एप्लीकेशन आईसीडीएस सुविधाओं के सही समय पर प्रदायगी को लेकर भी आंगनबाड़ी सेविका के साथ संबंधित लाभार्थी को मेसेज के जरिए अलर्ट भेजेगा। जैसे यदि किसी बच्चे का टीकाकरण का समय होगा तब केस एप्लीकेशन मेसेज भेजकर इसकी जानकारी आंगनबाड़ी सेविका के साथ लाभार्थी को भी देगा। इस तरह आईसीडीएस के तहत प्रदान की जाने वाली सभी सुविधाओं की सही समय पर जानकारी लाभार्थी को भी मिल सकेगी.

एप्पलीकेशन की आवश्यकता के उद्देश्य :

कैश (CAS) एप्पलीकेशन के क्रियान्वयन का मुख्य उद्देश्य आंगनबाड़ी केंद्रों की सेवाओं को बेहतर करना है. इससे आईसीडीएस की रियल टाइम मोनिटरिंग व्यवस्था में सुधार आएगा। प्रखंड व जिला सभी स्तरों पर डाटा का उपयोग करते हुए बेहतर योजना बनाने व सम्बंधित अधिकारियों को सूचित करने में सहयोग मिलेगा।अन्य ट्रेनर में विनायक शुक्ला, रूपेंद्र साहू, दिनेश कुमार, गौरव जैन के अलावा, केअर से आकांक्षा पाल, पोषण अभियान की जिला समन्यवक निधि प्रिया, डिस्ट्रिक्ट प्रोजेक्ट अस्सिस्टेंट सुधांश कुमार, टाटा ट्रस्ट से शौर्य पटेल व जिला की सभी महिला पर्यवेक्षिका प्रशिक्षण में उपस्थित रहे.

इनपुट:सीनियर जर्नलिस्ट चंद्रप्रकाश राज