अपने ही सरकार में भाजपा के जिला उपाध्यक्ष ने अधिकारियों पर लगाया लापरवाही का आरोप

0

दरौंदा। शहर मुख्यालय स्थित बाजार की नियमित रूप से साफ-सफाई नहीं होने की वजह से मुख्य बाजार में कई जगहों पर कचरे के ढेर लगे हुए हैं। इससे दुकानदारों व लोगों को परेशानी झेलनी पड़ती है। कचरे के ढेर से फैल रही दुर्गंध लोगों के लिए जी का जंजाल बनी है। भाजपा के जिला उपाध्यक्ष दिलावर तारिक ने बुधवार को इसकी जिम्मेवार प्रखंड प्रशासन और मुखिया को ठहराया है। भाजपा उपाध्यक्ष दिलावर तारिक ने कहा कि दरौंदा बाजार की स्थिति साफ-सफाई एवं जल निकासी के मामले में बद से बदतर है। बरसात शुरू होते ही यहां लोगों की परेशानी बढ़ जाती है। जिसकी वजह से नाले से गंदे पानी सड़कों पर आ जाती है। उन्होंने पंचायत के मुखिया वार्ड सदस्य स्थानीय जनप्रतिनिधि और स्वास्थ्य विभाग से जुड़े लोगों के खिलाफ आक्रोश व्यक्त की है। स्थानीय जनप्रतिनिधियों पर सवाल खड़े करते हुए उन्होंने कहा कि दरौंदा बाजार से पिपरा की ओर जाने वाली सड़क जर्जर की स्थिति में है जरा से बरसात होने के बाद सड़कों पर नारकीय जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाती है। हालांकि यहां के जनप्रतिनिधि इसका शुद्ध तक नहीं लेने वाले। और ना ही कोई सुनने वाला है। जर्जर सड़क पर नाले से निकल रही कीचड़ दुर्गंध का कारण बना है। बाजार में पॉलीथिन और कचड़े के अंबार की वजह से मच्छरों का प्रकोप बढ़ा है। जिसकी वजह से लोगों में डेंगू होने का लक्षण देखने को मिल रहा है। शहर की साफ-सफाई और गंदगी को ठीक नहीं किया गया तो बाजार में महामारी फैलने की आशंका है। शहर में साफ सफाई ना होने की वजह से महेश कुमार,संतोष कुमार,सामाजिक कार्यकर्ता विकास कुमार,टुन्ना यादव,सुनील तिवारी, दिवाकर तिवारी, शिवप्रकाश प्रसाद आदि व्यवसायियों में आक्रोश व्याप्त है.