बेउर जेल से लौटे मुखिया जी के स्वागत में दिखे सैकड़ों गाडियों के काफिले,कोर्ट से जमानत मिलने की खबर पाते ही समर्थकों में दौड़ पड़ी खुशी की लहर

0

दरौंदा। प्रखंड के पिनर्थु मुखिया मोहम्मद नैमुलहक सिद्दीकी को कोर्ट से जमानत मिलने की ख़बर पाते ही समर्थकों में खुशी की ठिकाने न रहे.पटना के बेउर जेल से मुखिया के लौटने की जनकारी मिलते ही शुक्रवार को सैकड़ों गाड़ियों के काफिले उनके स्वागत के लिए निकल पड़े। बताया जाता है की 27 नवंबर 2019 को पटना एयरपोर्ट से मुखिया नैमुलहक सिद्दीकी के बैंग में रखें हवाई अड्डा पुलिस ने नाइन एमएम के कारतूस बरामद किया था.इसी मामले में उन्हें कोर्ट के आदेश पर बेउर जेल में रखा गया था.मुखिया को जमानत पर छूटने के बाद काफिले के साथ उन्हें दरौंदा लाया गया.समर्थकों ने रास्ते मे कई जगहों पर बाजे गांजे और फूल मालाओं के उनका जोरदार स्वागत किया.जैसे-जैसे काफिला करीब आता गया समर्थकों की भारी-भीड़ एकत्रित होती चली गई.वहीं समर्थकों में जोश उमंग देखने को मिले.

लगभग दो माह 11 दिन के न्यायिक करवास के बाद अपने पंचायत लौटे मुखिया से मिलने के लिए पूरे दिन महिला-पुरुषों की तांता लगी रहीं.सभी लोग उनकी खैरियत लेने के लिए उतावले दिखे.अपने पंचायत पहूंचे मुखिया के ऊपर समर्थकों ने पुष्प की वर्षा किया। इसके साथ ही कई लोगों ने एक दूसरे को मिठाईयां खिलाकर खुशी व्यक्त किया.इधर जेल से लौटे मुखिया नैमुलहक सिद्दीकी ने कहा कि मुझे साजिश के तहत जेल भेजने की कोशिश की गई थी.मौके पर रिजवानुल्ला उर्फ टुन्ना,मोहित कुमार,रिजवान अहमद, गोपालपुर पंचायत के मुखिया राजेश्वर सिंह,दुबई इंजीनियर जफरूल हक सिद्दीकी,वीरेंद्र मिश्रा,नरूला खुदा समेत सैकड़ो भर से ज्यादा लोग रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here