पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व.रामबहादुर सिंह को 14वीं पुण्यतिथि श्रद्धापूर्वक मनाई गई

0

स्व. रामबहादुर बाबू के समाजवादी विचार आज भी प्रासंगिक

एकमा। बाजार नगर पंचायत में रविवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व.रामबहादुर सिंह की 14वीं पुण्यतिथि आयोजित कर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धा पूर्वक याद किया गया। इस अवसर पर उनकी प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित करने वालों में एमएलसी डा.वीरेन्द्र नारायण यादव, पूर्व एमएलसी ई सच्चिदानंद राय, कुंवर वाहिनी के अध्यक्ष जितेंद्र स्वामी, पूर्व मंत्री गौतम सिंह, राजद नेता देवकुमार सिंह, शिक्षक नेता दिनेश सिंह, स्व.रामबहादुर सिंह के पुत्र संजय सिंह,भाजपा नेता ब्रजेंद्र सिंह उर्फ भवानी मुन्ना, प्रो. ओमप्रकाश सिंह, तारकेश्वर सिंह, प्रो. राजगृह सिंह,भूपेन्द्र प्रसाद सिंह आदि शामिल रहे.

वहीं इस अवसर पर अलख नारायण सिंह हाईस्कूल के परिसर में आयोजित एक श्रद्धांजलि सभा का श्रीगणेश मुख्य अतिथि बलिया (यूपी) के सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने दीप जलाकर किया। सभा की अध्यक्षता शिक्षक चंदेश्वर सिंह व मंच का संचालन ओमप्रकाश सिंह ने किया। इस दौरान अपने संबोधन में बलिया के सांसद श्री मस्त ने कहा कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्व. रामबहादुर बाबू के समाजवादी विचार आज भी प्रासंगिक है। उन्होंने सभी समुदाय के लोगों को एक साथ लेकर चलने वाले थे। उनके ऊपर सादा जीवन उच्च विचार वाली कहावत भी चरितार्थ होती है। वह एक कर्मठ, ईमानदारी व बेदाग छवि के समाजवादी नेता थे। वह तत्कालीन लोकनायक जयप्रकाश नारायण, राममनोहर लोहिया, चंद्रशेखर आदि के विचारों के प्रबल समर्थक व साथ रहकर आम जनता के दु:ख-दर्द को काफी नजदीक से देखा था। श्री मस्त ने कहा कि सांसद में नहीं बल्कि समाज में शक्ति होती है। उन्होंने डरो मत, डराओ मत के अपने संदेश के सात अपने संबोधन को पूरा किया।

वहीं महाराजगंज के भाजपा सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल ने कहा कि स्व. रामबहादुर बाबू नेता नहीं फरीर थे। ऐसे व्यक्ति को कभी भूलना नहीं चाहिए। उनको समय-समय पर याद रखकर उनके पदचिन्हों पर चलने की हमें प्रेरणा लेनी चाहिए।

इसी क्रम में एमएलसी डा. वीरेंद्र नारायण यादव ने कहा कि स्व. रामबहादुर बाबू समाज का आईना थे। उनके राजनीतिक व सामाजिक जीवन से शिक्षा लेने की आवश्यकता है। पूर्व एमएलसी ई सच्चिदानंद राय ने कहा कि स्व. रामबहादुर बाबू अब हम लोगों के बीच नहीं रहे हैं। लेकिन उनकी यादें व उनके कार्य हमलोगों के साथ है। उनके अधूरे सपनों को साकार करना ही हमारी सबसे बड़ी श्रद्धांजलि होगी। उन्होंने कहा कि छपरा शहर में भी उनकी एक प्रतिमा स्थापित करके जयंती व पुण्यतिथि हर साल आयोजित होनी चाहिए। सीवान के पूर्व सांसद ओमप्रकाश यादव ने अपने संबोधन में कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व. रामबहादुर सिंह एक सच्चे समाजवादी नेता के रूप में हमेशा याद किए जाते रहेंगे। आज उनकी पुण्यतिथि तिथि पर सभी को उनके विचारों को अपनाने का संकल्प लेना चाहिए।

इस मौके पर पूर्व मंत्री गौतम सिंह, पूर्व मंत्री प्रो. रवींद्र नाथ मिश्रा, भाजपा नेता कामेश्वर कुमार सिंह मुन्ना, कामरेड अरुण कुमार सिंह, योगेंद्र शर्मा, देवकुमार सिंह, संजय सिंह, गायक रमेश सजल, अरविंद सिंह, डा. अभिषेक सिंह, तारकेश्वर सिंह, ध्रुव पांडेय, मनोज गिरी, सुदामा तिवारी, पूर्व प्रमुख रामदेव सिंह, रणधीर सिंह, चैतेंद्रनाथ सिंह,देवेन्द्र कुमार सिंह, डॉ.मोहम्मद जलील आदि ने भी सभा को संबोधित किया। प्रो. भूपेंद्र प्रसाद सिंह के द्वारा धन्यवाद ज्ञापन के साथ सभा का समापन हुआ.

इनपुट:चन्द्रप्रकाश राज/के.के.सिंह सेंगर/वीरेंद्र कुमार यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here