पूर्व सांसद ओमप्रकाश यादव पर ससुराल में जाकर बदतमीजी तथा पुत्र के द्वारा फायरिंग करने का लगाया आरोप- वीडियो वायरल

0

ओमप्रकाश यादव के आदेश पर पुत्र हैप्पी यादव ने की आंगन में की दनादन फायरिंग-का आरोप

● वायरल वीडियो का यह न्यूज़ नहीं कर रहा पुष्टि

सीवान। महाराजगंज थाना क्षेत्र के जिगरवां गांव निवासी सत्यदेव यादव के सोशल मीडिया पर लगता है एक वीडियो वायरल हो रहा है वायरल वीडियो में सत्यदेव यादव के द्वारा सिवान के पूर्व सांसद ओम प्रकाश यादव पर आरोप लगाए जा रहे है कि श्री सांसद का ससुराल थाना क्षेत्र के जिगरवां गांव निवासी पानमती देवी के यहां है.कहा गया है कि उनकी सास पानमती देवी अपनी बैनामा काश्तकारी जमीन को पूर्व में ही बेच चुकी है.

जमीन बिक्री के बाद सांसद ओमप्रकाश यादव उनके पुत्र हैप्पी यादव, जयप्रकाश यादव,राधिका देवी, ज्ञानती देवी के अलावे उनके साथ 10 की संख्या में उनके अंगरक्षक समेत लोग उनके घर पहुंचे और मारपीट करना शुरू कर दिया.वायरल वीडियो में बताया गया है कि यह घटना 21 दिसंबर 2019 शाम की 3:00 बजे के गरीब की है.पहुंचे लोगों ने सत्यदेव यादव के परिवार के सदस्यों के साथ बदतमीजी करने लगे। इसी बीच ओमप्रकाश यादव के पुत्र हैप्पी यादव घर में घुसकर मेरी पत्नी और बहू कि बक्सा लूट लिए. जिस बक्से में लगभग 20 थान सोना और चांदी के जेवरात थे. इसके अलावा सभी लोगों ने एक घर के अंदर रखे गेहूं चावल समेत घर के अन्य सामग्री को पिकअप पर लादकर अपने साथ ले गये.घर में लूटपाट और बदतमीजी का विरोध करने पर सीवान के पूर्व सांसद ओमप्रकाश यादव ने अपने बेटे हैप्पी यादव से जान से मारने की बात कही. इतने में सांसद पुत्र हैप्पी यादव ने आंगन में निकल कर फायरिंग करना शुरू कर दिया. घर के अंदर फायरिंग शुरु होते ही परिवार के सभी सदस्य जान बचाने के लिए भागकर महाराजगंज थाने पहुंचे और सारी घटनाक्रम की सूचना लिखित में दिया.आरोप ये भी लगाया गया है कि लिखित सूचना के बावजूद भी ओमप्रकाश यादव के दबाव में आकर थाने की पुलिस तथा थानाध्यक्ष मेरे पुत्र को ही शाम के 5:00 बजे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.वायरल वीडियो में यह भी कहा गया है कि पुत्र के गिरफ्तारी के बाद पिता लाचार और बेबस है उन्होंने शासन और प्रशासन को उनके साथ न्याय दिलाने की बात कही है. इस संबंध में दोनों पक्ष के लोगों ने मारपीट की प्राथमिकी दर्ज कराई है. हालांकि दर्ज कराई गई प्राथमिकी में किसी भी पक्ष के द्वारा पूर्व सांसद को आरोपित नहीं किया गया है. पुलिस ने थाना कांड संख्या 337/19 तथा 338/19 दर्ज करते हुए दो लोगों को जेल भी भेज दिया है.

क्या कहते है थानाध्यक्ष

इस संबंध में महाराजगंज थानाध्यक्ष मनीष कुमार साहा ने कहा कि जिगरवां गांव में पूर्व से लंबित संपत्ति बंटवारे को लेकर विवाद चल रही थी.शनिवार को भी इसी संबंधित मामले को लेकर दो पक्षों के बीच मारपीट की घटना हुई. जिसमें एक पक्ष से सत्यदेव यादव के 35 वर्षीय पुत्र पप्पू यादव वहीं दूसरे पक्ष से रामध्यान यादव के 45 वर्षीय पुत्र जितेंद्र यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here