युवती की मौत के बाद जमकर हंगामा,थाने में खड़ी गाड़ियों में लगाई आग

0

ग्रामीणों का आरोप …..

पहले लड़की के साथ बलात्कार किया गया और फिर उसकी हत्या कर दी गई है. लेकिन पुलिस ने इस मामले में अपने तरीके से मुकदमा दर्ज किया। आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार नहीं किया गया।

बिहार: कैमूर में उस समय ग्रामीणों का आक्रोश बढ़ गया जब एक दलित युवती की ट्रेन से गिरकर मौत हो गई। आक्रोशित ग्रामीणों ने पहले तो जोरदार हंगामा किया। हंगामे के बाद थाने में पथराव किया। इतने से मन नहीं भरा तो थाने में खड़ी आधा दर्जन गाड़ियां को आग के हवाले कर दी। दरअसल पूरा मामला 2 दिन पूर्व का है।

बताते चलें कि कैमूर में 2 दिन पहले ट्रेन से एक दलित युवती की गिरकर मौत हो गई जिसके बाद ग्रामीणों का आक्रोश सातवें आसमान पर था। पूरा मामला कैमूर जिले के रामगढ़ थाना क्षेत्र का है। आक्रोशित ग्रामीणों ने आरोप लगाया था कि पहले लड़की के साथ बलात्कार किया गया और फिर उसकी हत्या कर दी गई है. लेकिन पुलिस ने इस मामले में अपने तरीके से मुकदमा दर्ज किया और जांच शुरू कर दी. इसी मामले में शुक्रवार को ग्रामीणों का आक्रोश भड़क उठा और थाना परिसर में खड़ी तकरीबन आधा दर्जन गाड़ियों में आग लगा दी।

आक्रोशित लोगों का आरोप था कि इतने बड़े कांड हो जाने के बाद प्रशासन किसी भी आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया। शुक्रवार को ग्रामीणों के गुस्सा इतनी ज्यादा बढ़ गई की ग्रामीणों ने रामगढ़ थाने में धावा बोला और थाने परिसर में खड़ी तकरीबन आधा दर्जन गाड़ियों में आग लगा दी। आक्रोशित ग्रामीण पीड़ित परिवार को 25 लाख रुपए मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दिलाने की मांग कर रहे हैं। ग्रामीणों की बढ़ती आक्रोश को देख भारी संख्या में फोर्स बल की तैनाती की गई है। शुक्रवार को आरोपियों को गिरफ़्तारी और पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने की मांग को लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने जमकर बवाल काटा और थाने में आग लगा दी। घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी का माहौल कायम है। ग्रामीणों की बढ़ती आक्रोश और थाने में आगजनी की सूचना पाकर मौके पर भारी संख्या में फोर्स बल की तैनाती की गई है। साथ ही पुलिस बल हंगामा कर रहे लोगों को शांत कराने के लिए हवाई फायरिंग और आंसू गैस के गोले भी दागे जाने की सूचना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here