उपचार के दौरान घायल चौकीदार ने पटना में दम तोड़ा,एकमा थाना परिसर में हुई शोक सभा

0

एकमा। थाना क्षेत्र के फुचटी खुर्द गांव के चौकीदार जितेन्द्र मांझी (35) की मौत पटना के एक निजी चिकित्सालय में इलाज के दौरान हो गई है। चौकीदार की मौत की सूचना मिलते ही एकमा थाना परिसर गमगीन हो गया। बताते चलें कि जितेंन्द्र मांझी स्थानीय थाना में चैकीदार के पद पर कार्यरत था। सरस्वती पूजा के समापन के बाद उक्त चौकीदार विद्या की देवी सरस्वती के प्रतिमा विसर्जन करने का आग्रह करने के लिए पूजा समिति के सदस्यों के पास बलुआं बाजार में गया था। जहां शराब के नशे में धूत पूजा समिति के सदस्य सुजीत गुप्ता ने चौकीदार को अपमानित किया और उसपर प्राणघातक हमलाकर गंभीर रूप से घायल कर दिया।सूचना मिलने पर थानाध्यक्ष राजेश चौधरी के निर्देश पर पुलिस अवर निरीक्षक लव कुमार द्विवेदी ने ग्रामीणों के सहयोग से गंभीर रूप से घायल चौकीदार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आवश्यक उपचार के लिए पुलिस जीप से लाकर भर्ती कराया। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायल चौकीदार को बेहतर चिकित्सा के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। पुनः सदर अस्पताल से भी उसे बेहतर चिकित्सा हेतु पटना रेफर करद दिया गया। तत्पश्चात पुलिस अवर निरीक्षक लव कुमार द्विवेदी ने सशस्त्र बल के सहयोग से फुचटी खुर्द गांव के आरोपी युवक सुजीत गुप्ता को गिरफ्तार कर चिकित्सीय जांच कराने के बाद जेल भेज दिया। बताया जाता है कि चौकीदार का उपचार पटना के एक निजी चिकित्सालय में चल रहा था। जहां उपचार के दौरान चौकीदार की मौत हो गई। चौकीदारकी मौत पर थाना परिसर में शोक सभा का आयोजन थानाध्यक्ष राजेश चौधरी की अध्यक्षता हुई। जिसमें पुलिसकर्मियों ने शोक व्यक्त किया। अन्त में दो मिनट का मौन रखकर कर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की गई.

इनपुट:चंद्रप्रकाश राज/वीरेंद्र यादव/के.के सेंगर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here