महाराजगंज के दर्जनों गांव अंधेरे में डूबे 18 घंटे से बिजली गुल

0

महाराजगंज.प्रखंड के सीमावर्ती गांव टेघड़ा, बलिया,बालबंगरा, कसदेवरा बंगरा,देवरिया समेत दर्जनों गांवों में बुधवार की रात अचानक चली तेज हवा और बारिश से बिजली गुल हो गई। पूरे महाराजगंज क्षेत्र में लगभग 18 घंटों से बिजली गुल है। इस वजह से सीमावर्ती गांवों के लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। गांव के लोगों का कहना है कि क्षेत्र में बारिश और थोड़ी सी आंधी तूफान से बिजली अक्सर गुल हो जाती हैं। पूरी रात बिजली न होने से क्षेत्र में बिजली से चलने वाली चारा काटने की मशीनें बंद रही और कोई काम काज नहीं हुआ। इससे क्षेत्र के किसानों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। उन्होंने बिजली विभाग से मांग की कि जल्द से जल्द क्षेत्र में ढीली पड़ीं बिजली की तारों की मरम्मत करें, ताकि क्षेत्र में किसानों और आम जनता को कोई परेशानी न हो। और आगे समय बरसातों का ही आ रहा है। क्षेत्र के किसान अभी थोड़े दिनों के बाद धान की फसल की तैयारियां शुरू कर देंगे। इसके अलावा किसानों ने कहा कि क्षेत्र के किसानों को इन दिनों पानी की जरूरत होती है। और जब भी बारिश के साथ आंधी तूफान आए तो बिजली कई घंटों तक गुल हो जाती हैं। इससे किसानों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। बताया कि बरसात के पहले ही विद्युत आपूर्ति व्यवस्था इतनी लचर है तो बरसात में स्थिति का अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है। मामले के तहत कई बार विद्युत विभाग के कार्यपालक अभियंता से पहल की गयी है बावजूद सिर्फ आश्वासन के सिवाय कुछ भी प्राप्त नहीं हुआ है। नतीजा मानसून अब दस्तक देने वाली है ऐसे में संबंधित फीडर के उपभोक्ता राम भरोसे ही है।

लॉकडाउन में बच्चे नहीं ले रहे ऑनलाइन क्लास

गौरतलब हैं कि कोरोना के बढ़ते मामलों पर अंकुश लगाने के लिए बिहार सरकार ने 25 मई तक संपूर्ण बिहार में लॉकडाउन लागू किया हैं. लॉकडाउन में सभी विद्यालय बंद हैं. कारण यह कि ज्यादातर बच्चे घर पर ही सुरक्षित रहकर ऑनलाइन क्लास कर रहे हैं. घंटों बिजली गुल होने की वजह से उनका स्मार्टफोन लैपटॉप को चार्ज करने में परेशानी हो रही है.ऐसे में बिजली नहीं रहने से पढ़ाई करने वाले बच्चों के भविष्य पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here