सीपीएस ने मनाया 26वां स्थापना दिवस

0

उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को किया गया सम्मानित

छपरा। स्थानीय सेंट्रल पब्लिक स्कूल विकास नगर चांदमारी रोड छपरा का 26 वां स्थापना दिवस समारोह का आयोजन किया गया मुख्य अतिथि डॉ. हरिकेश सिंह, कुलपति जयप्रकाश विश्वविद्यालय छपरा तथा विशिष्ट अतिथि डॉ. प्रमेंद्र रंजन सिंह, नारायण कॉलेज, गोरियाकोठी, जिला शिक्षा पदाधिकारी श्री अजय कुमार सिंह तथा शिक्षाविद श्री राम दयाल शर्मा जी ने अपनी उपस्थिति दर्ज करा विद्यालय को गौरवान्वित किया । सर्वप्रथम विद्यालय के निदेशक डॉक्टर हरेंद्र सिंह तथा प्राचार्य श्री मुरारी सिंह ने आगत अतिथियों का स्वागत अंगवस्त्र व मोमेंटो से किया। विद्यालय की छात्राओं ने स्वागत गान की प्रस्तुति उपस्थित जनों को मंत्रमुग्ध कर दिया । विद्यालय के निदेशक डॉ सिंह ने अपने संबोधन में विद्यालय की स्थिति पर प्रकाश डालते हुए कहा कि काफी संघर्ष के बाद विद्यालय आज इस स्थिति पर पहुंचा है। विद्यालय का अपना अनोखा कार्यक्रम निर्धारित किया गया है जिसमें अन्य विद्यालय से तुलना की आवश्यकता नहीं। उन्होंने सामाजिक वातावरण सुदृढ़ करने पर जोर दिया।

इस अवसर पर 2008 में प्राणघातक दुर्घटना में रक्षक बने श्री अरविंद सिंह जी को सम्मानित किया । जिला शिक्षा पदाधिकारी श्री अजय कुमार सिंह ने अपने संबोधन में विद्यालय के प्रबंधन के साथ में उपस्थित जनों को धन्यवाद देते हुए विद्यालय व्यवस्था तथा शिक्षण पद्धति से काफी प्रभावित हो अपने सुझावों से विद्यालय को लाभान्वित किया। इसके बाद स्वागत गान तथा वंदे मातरम तथा विभिन्न कार्यक्रम में भाग लिए बच्चों को मेडल और सर्टिफिकेट प्रदान कर सम्मानित किया तथा सीबीएसई की परीक्षा उत्कृष्टता प्राप्त छात्रों को तथा विभिन्न खेलकूद के क्षेत्र में छात्रों को प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। श्री राम दयाल शर्मा जी ने अपने संबोधन में कार्यक्रमों की सराहना करते हुए सरकारी एवं गैर सरकारी विद्यालयों की चर्चा करते हुए जोर देते हुए अभिभावक समाज एवं विद्यालय के पारस्परिक संबंध बनाने पर जोर दिया। प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रन वेलफेयर एसोसिएशन की सारन जिला के अध्यक्ष श्रीमती सीमा सिंह ने अपने संबोधन में बच्चों को प्रतिभावान बनने की शुभकामनाएं दी।ड्रा. (प्रो.) प्रमेंद्र रंजन सिंह ने गुणात्मक शिक्षा पर जोर देते हुए निदेशक महोदय द्वारा निर्धारित कार्यक्रम की प्रशंसा की। पूर्ववर्ती छात्रों के उत्कृष्टता प्रमाण पत्र देख काफी प्रभावित हुए तथा बच्चों को प्रतिभावान बनने के लिए प्रोत्साहित किया । मुख्य अतिथि जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपातु ने अपने संबोधन में विद्यालय प्रबंधन के पूर्वजों को तथा उपस्थित स्वजनों का अभिवादन कर शिक्षकों का वर्गीकरण करते हुए कहा शिक्षक वही है जो अपना बच्चों के आंख में आंख डालकर उनकी जानकारी प्राप्त कर लेता है। उन्होंने बच्चों को भारतीयता की शिक्षा प्रदान करने की सलाह दी। अभिभावकों को आध्यात्मिक शिक्षा प्रदान करने हेतु निदेशक को माह में एक बार शिविर आयोजित करने का आग्रह किया। धन्यवाद ज्ञापन प्राचार्य श्री फतेह बहादुर सिंह ने किया तथा मंच का संचालन विद्यालय प्रबंधक श्री विकास कुमार ने किया.

इनपुट:सीनियर जर्नलिस्ट चंद्रप्रकाश राज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here