जुआरी और शराबियों का अड्डा बना भीखाबांध का दरगाह

0

दरौंदा। प्रखंड के भीखाबांध के दरगाह में इन दिनों जुआरियों तथा शराबियों का अड्डा काफी सुर्खियों में है। जानकारी रहते भी स्थानीय थाने की पुलिस मूकदर्शक बनी है। बताते चलें कि प्रत्येक दिन यहां दो-तीन लाख रुपये का वारा-न्यारा होता है। इतना ही नहीं कुछ जानकारों ने यह भी बताया कि अड्डे पर ही हारने वाले को 10 फीसद ब्याज पर दुबारा पैसा मिल जाता है। एक तरफ बिहार के सीएम नीतीश कुमार शराबबंदी कानून को बढ़ावा देने के लिए हर मुमकिन योजनाएं चला रहे हैं तो दूसरी तरफ जुए के इस अवैध कारोबार में सबकुछ गंवाकर दर्जनों परिवार बर्बाद हो चुके हैं। शराबी और अंतरजिला जुआरियों की अड्डेबाजी से स्थानीय लोग काफी परेशान हैं।शाम तीन बजे के बाद से ही जुआरी और शराबी लोग वहां जमा होने लगते हैं। शराब पीने और जुआ खेलने का सिलसिला देर शाम तक जारी रहता है.