अज्ञात युवक की हत्या कर शव को जयप्रभा सेतु के नीचे फेंका

0

जयप्रभा सेतु पर ग्रामीणों व राहगीरों की उमड़ी भीड़

एकमा/मांझी। एकमा पुलिस सर्किल के मांझी थाना इलाके में सोमवार की सुबह पुलिस ने जयप्रभा सेतु के पाया संख्या दो पर हत्या कर फेंके गए एक अज्ञात 28 वर्षीय युवक का शव बरामद किया। राहगीरों व ग्रामीणों द्वारा सूचना पाकर मांझी थाने के उप निरीक्षक जितेंद्र कुमार सिंह पुलिस बल के साथ शव को फेंके गए स्थान पर पहुंचे। पुलिस ने हाजीपुर-गाजीपुर एनएच 19 पर सरयु नदी पर स्थित जयप्रभा सेतु के नीचे मांझी की तरफ से पाया संख्या दो के ऊपर छिपछिपे पानी के बीच रक्तरंजित शव बरामद किया। इस बीच वारदात की जानकारी पाकर जयप्रभा सेतु पर सोमवार की सुबह राहगीरों और आसपास के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी।

पुलिस के अनुसार अज्ञात युवक के शव की बरामद स्थल पर तहकीकात के दौरान युवक की उम्र लगभग 28 वर्ष के आसपास है। युवक के बाएं सिर में गोली अथवा चाकू से प्रहार करने का गहरा जख्म मिला है। अभी स्पष्ट नहीं हुआ है कि युवक की हत्या गोली मारकर अथवा धारदार चाकू के प्रहार से की गई है। उप निरीक्षक जितेंद्र कुमार सिंह का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद जख्म व हत्या में उपयोग किए गए हथियार भी स्पष्ट हो जाएगा।

पुलिस ने मौके से प्रथम दृष्टया तहकीकात के दौरान मृतक युवक के दोनों हाथ मारपीट कर तोड़ा हुआ व लाल रंग के गमछे से दोनों हाथ बंधे हुए व सिर से रक्त टपकते हुए शव बरामद किया है। इस दौरान युवक के शरीर पर ब्लू कलर की जींस, काला व उजला धारीदार गंजी के अलावा हरा व उजला चेकदार शर्ट पहने हुए मिला है। पुलिस व मौजूद लोगों ने बरामद शव को देखकर अनुमान लगाया है कि युवक की हत्या बीती अर्द्धरात्रि के आसपास की गई होगी। मांझी पुलिस का कहना है कि युवक की कहीं और हत्या करके मांझी थाना इलाके में स्थित जयप्रभा सेतु के पुल के नीचे पाया संख्या दो के ऊपर अज्ञात अपराधियों के द्वारा फेंका गया है। पुलिस के द्वारा मौके पर मौजूद स्थानीय लोगों की भीड़ से काफी पूछताछ करके शव की शिनाख्त के लिए प्रयास किया गया है। लेकिन शव की शिनाख्त नहीं हो सकी है। पुलिस अनुमान है कि लोकल एरिया का मृतक युवक नहीं है। कहीं बाहर अथवा सीमावर्ती उत्तर प्रदेश इलाके में हत्या करके युवक के शव को ठिकाने लगाने के लिए मांझी पुल के नीचे फेंक दिया गया है। बहरहाल,मांझी पुलिस द्वारा शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए छपरा सदर अस्पताल भेज दिया गया है। विभागीय नियमानुसार 72 घंटे तक जिला मुख्यालय स्थित निर्धारित स्थान पर शव को सुरक्षित रखकर इसकी शिनाख्त करने का पुलिस के द्वारा प्रयास किया जायेगा।

इनपुट:चंद्रप्रकाश राज/वीरेंद्र यादव/के.के सेंगर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here