गोपालगंज में 118 नियोजित शिक्षकों को किया गया निलंबित,नौकरी समाप्त करने के लिए विभाग से किया अनुशंसा

0

गोपालगंज। नियोजित शिक्षकों के गर्दन पर सरकार की दो धारी तलवार लटक गई है.जी हां नियोजित शिक्षकों के ऊपर कड़ी कार्रवाई करते हुए उप विकास आयुक्त ने जिले के कुल 118 नियोजित शिक्षकों को निलंबित कर दिया है,साथ ही उन्हें उनकी नौकरी समाप्त करने के लिए शिक्षा विभाग से अनुशंसा किया है,इधर हड़ताली नियोजित शिक्षकों पर उप विकास आयुक्त की इतनी बड़ी कार्रवाई के बाद पूरे शिक्षकों में हड़कंप मच गया है। गौरतलब हो कि समान काम समान वेतन को लेकर नियोजित शिक्षक 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर है,जिसकी वजह से विद्यालयों में ताला लटक गया है.पूरे बिहार में नियोजित शिक्षक अपनी मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए है. हालांकि गोपालगंज में नियोजित शिक्षकों पर कार्रवाई इंटरमीडिएट की कॉपी के मूल्यांकन से दूरी बनाने को लेकर हुआ। बताया जाता है कि यह सभी नियोजित शिक्षकों को इंटरमीडिएट कॉपी का मूल्यांकन करना था,हालांकि मूल्यांकन ड्यूटी में सभी नियोजित शिक्षक नदारद पाए गए।जिसके कारण उप विकास आयुक्त ने यह बड़ा निर्णय लिया और सभी को निलंबित करते हुए उनकी नौकरी समाप्त करने के लिए विभाग से अनुशंसा की है.