युवाओं ने शहीद के नाम 1001 दीये समर्पित कर मनाई दिपावली

0

रिपोर्ट: चंद्र प्रकाश राज

छपरा:शहीद हुए वीर जवान संतोष की शहादत को याद करते हुए रिविलगंज के मीडिल स्कूल के पास शहीद संतोष की प्रतिमा के पास 1001 दीये जला सामाजिक संगठन सोशल सर्विस एक्सप्रेस के युवाओं ने मनाई दिपावली। हमारे रक्षा मे शहीद संतोष सिंह शौर्य, पराक्रम व समर्पण के प्रतीक हैं। शहीद के नाम का पहला दीया शहीद संतोष की बेटी सीमा सिंह ने नम आंखों से अपने पिता को समर्पित किया। शहीद संतोष के भाई श्री विनोद सिंह ने अपने भाई को याद करते हुये कहा कि भारत माता की रक्षा के लिये मैने अपने भाई को खोया है. मुझे अपने भाई पर गर्व है।
संस्था के सदस्यों व स्थानीय लोगों ने दीप जलाकर शहीद संतोष को श्रद्धांजलि दी।

हर दिवाली पर संस्था द्वारा शहीदों के नाम का दीया जलाया जाता है।संस्था के भँवर किशोर ने कहा कि शहीद संतोष हमारी शान है। हमें उनके शहादत पर पर गर्व है,देश उनको नमन करता हैं। संस्था के मुकेश ने कहा कि शहीद संतोष ने देश की सेवा में अपने प्राणों की आहुति दी है ,देश के लिये गौरव है।

शहीद संतोष कुमार सिंह, रिविलगंज के शमसुद्दीनपुर के निवासी थे. अक्टूबर,1999 में सेना मे शामिल शहीद संतोष ने भारत माता की रक्षा के लिये 27 मार्च, 2003 को अपने प्राणों को देश के लिये न्योछावर कर दिया. कार्यक्रम में कोस्ट गार्ड में तैनात अर्जुन कुमार,मनोज सिन्हा,अशोक,विनोद,मुकेश,रौशन,विकास सहित कई लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here